अपने ही परिवार को मिटाने का खून सवार: अजमेर में युवक ने मां और भाई की हत्या की, पिता और तीन मुसलमानों को जख्मी किया; 13 घंटे बाद पकड़ा गया तो बोला- कुछ याद नहीं

0
262


  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • राजस्थान Rajasthan
  • अजमेर
  • अजमेर में, द मदर एंड ब्रदर इमोशनल रिलेशनशिप में मौत के मुंह में चले गए; पिता और अन्य तीन भाई घायल, आरोपी आरईटी के लिए तैयारी कर रहा था, हादसे के बाद फरार

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें Newslabz app

अजमेर5 घंटे पहले

भिनाय का वह घर, जहां वारदात अंजाम दी गई। पुलिस ने मौके से साक्ष्य जुटाए हैं।

अजमेर के भिनाय कस्बे में बीती रात एक युवक ने अपनी ही मां और छोटे भाई के सिर में हथौड़ा मारकर हत्या कर दी। आरोपी अपने पिता और तीन मुसलमानों की भी हत्या करना चाहता था, लेकिन घरवालों के शोर मचाने पर मोहल्ले के लोग मदद के लिए आ गए और उनकी जान बच गई। आरोपी अमरचंद्र जांगिड़ (25) ने बेड किया है और वह आरईटी की तैयारी कर रहा था।

आरोपी युवक की नीयत पूरे परिवार को खत्म करने की थी। मालिकों की जांच के आधार पर बताया जा रहा है कि आरोपी डिप्रेशन में था। वह लगभग दो साल से जयपुर में रहकर रिट की तैयारी कर रहा था। परीक्षा नहीं होने की वजह से वह तनाव में था। नौकरी भी नहीं मिल रही थी। संभवत: इसी तनाव में उसने वारदात की। हालांकि, पुलिस का कहना है कि जांच के बाद ही इस वारदात की वजह पता चल रही है।

आरोपी 13 घंटे बाद घर से 12 किमी दूर जंगल में पकड़ा गया
आरोपी अमरचंद्र वरदात करने के बाद तड़के करीब 4 बजे फरार हो गया था, लेकिन गुरुवार शाम करीब 5 बजे जब अरकिया के ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी कि उन्होंने आरोपी को पकड़ लिया है। वह खेतों में छिपने की कोशिश कर रहा था। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी। जहां से आरोपी पकड़ा गया, वह जगह वारदात वाली जगह से 12 किलोमीटर दूर है।

ग्रामीणों ने जब आरोपी से मां और भाई की हत्या की वजह पूछी तो उसने कहा कि उसे कुछ भी याद नहीं है।  उलटा वह ग्रामीणों से ही पूछ रही थी कि उसके परिवार के लोग कैसे हैं?

ग्रामीणों ने जब आरोपी से मां और भाई की हत्या की वजह पूछी तो उसने कहा कि उसे कुछ भी याद नहीं है। उलटा वह ग्रामीणों से ही पूछ रही थी कि उसके परिवार के लोग कैसे हैं?

रात 2 बजे की घटना, सबसे पहले माँ को मारा गया
पुलिस ने बताया कि किस परिवार में यह वारदात हुई, उनका फर्नीचर बनाने का काम है। माता-पिता गांव में रहते थे, जबकि 5 बेटे जयपुर में रहते थे। उनके एक भाई ताराचंद्र का अजमेर में अपेंडिक्स का ऑपरेशन हुआ था। बुधवार के दिन ही सभी भाई गांव आए थे। बुधवार रात लगभग 2 बजे आरोपी अमरचंद्र अपने कमरे से बाहर गए। उसने बिजली का कटआउट निकालकर घर की लाइट बंद कर दी और दरवाजा अंदर से बंद कर लिया। वह मां कमला देवी (60) के कमरे में गई और उनके सिर में हथौड़ा मार दिया। इससे मां की मौके पर ही मौत हो गई। यहां से वह छोटे भाई शिवराज (22) के कमरे में गई और उसके सिर में भी हथौड़ा मार दिया। शिवराज ने भी मौके पर ही दम तोड़ दिया।

इस बीच शोर-शराबा होने लगा। आरोपी को रोकने के लिए बाहर सो रहे पिता रामधन (65) और दूसरे कमरे में सो रहे तीन भाई भागचंद, ओमप्रकाश और ताराचंद्र दौड़े। आरोपी ने उन पर भी हमला कर दिया। वह उन सभी की हत्या करना चाहता था। ट्रोड के हमले में तीनों घायल हो गए। तेज आवाज सुनकर मोहल्ले के कुछ लोग जाग गए और बचाने के लिए दौड़े। इस बीच आरोपी भाग निकला।

भिनाय के इसी मकान में वारदात हुई है।  पुलिस जांच कर रही है।

भिनाय के इसी मकान में वारदात हुई है। पुलिस जांच कर रही है।

रात को पूरा परिवार खाना खाकर सोया था
भिनाय के कस्बे में हुई इस वारदात की वजह किसी के समझने में नहीं आ रही है। बताया जा रहा है कि रात में परिवार के सभी लोग आराम से खाना खाकर सोए थे। कोई विवाद नहीं था। एक रिश्तेदार ने बताया कि आरापी अमरचंद्र अक्सर शांत रहता था। किसी से ज्यादा बात नहीं करता था बीती रात भी परिवार के लोग निश्चिंत दिखे, आसपास के लोगों से भी बात की थी।

हत्या के वक्त अजीब हरकत कर आरोपी था
हत्या के वक्त आरोपी जिस तरह की हरकत कर रहा था वह भी उसके डीपी डिप्रेशन में होने की तरफ इशारा करता है। पुलिस ने बताया कि सबसे पहले अमरचंद्र ने घर की लाइट बंद की और बाहर का दरवाजा बंद कर दिया। इसके बाद माँ के कमरे में गई और एक तोडे में ही उनकी हत्या कर दी। छोटे भाई शिवराज के कमरे में जाकर कहा- माँ बुला रही है। वह जैसे ही अपना सिर उठाता है, बहुत हथौड़ा मार देता है।

हमले में पिता रमन और तीन भाई घायल हो गए।  आरोपी ने सबके सिर पर हमला किया।

हमले में पिता रामधन और तीन भाई घायल हो गए। आरोपी ने सबके सिर पर हमला किया।

वरदात के बाद अजमेर से एफएसएल की टीम मौके पर पहुंची और सबूत जुटाए।

वरदात के बाद अजमेर से एफएसएल की टीम मौके पर पहुंची और सबूत जुटाए।

(कंटेंट-रितेश मिश्रा)

खबरें और भी हैं …



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here