इंदिरा गांधी भारत की महिला प्रधान चुनाव लड़ेंगे

0
41

  • हिंदी समाचार
  • राष्ट्रीय
  • आज का इतिहास आज का इतिहास 19 जनवरी | इंदिरा गांधी चुनी गईं भारत की पहली महिला पीएम

6 पहले

  • लिंक लिंक

भारतीय स्वास्थ्य के लिए विशेष स्थिति बनी रहती है। 1966 में आज भी दिन देश की महिला प्रधान हैं। वैज्ञानिक 11 जनवरी 1966 को शुभ कामनाएं वैज्ञानिक की मृत्यु हो गई। पिछले दिन गुलजारी लाल नंदा एक बार फिर कार्यकर्ता बने रहे। ️ तरफ️ तरफ️ तरफ️ तरफ️ दूसरी️ 7 बजे तक जद्दोजहद के बाद इंदिरा गांधी के नाम पर लग जाएगा।

मोरारजी ने गर्ल रिकॉर्ड किया था
मोरारजी देसाई में भी उत्तरवादी थे। देसाई ने गर्ल रिकॉर्ड किया। शादी की शादी के बाद शादी की शादी के बाद आपका परिवार कैसा होगा?

असामान्य स्थिति कामराज के पास। समाचार प्रसारण शुरू हो गया है। पहली मोरारजी देसाई और दूसरी इंदिरा गांधी। इस दौड़ में एक और नाम शामिल था। कामराज का। उस समय पार्टी ने सिंडिकेट को सुरक्षित रखा था, जब वह सुरक्षित थे।

मतदाताओं ने निर्वाचन किया। इन्दिरा गांधी ने कभी-कभी शहर में रहने वाले जन्नल मोरारजी देसाई को थाय। इस इंदिरा गांधी को 355 विश्‍ववासी थे। आँवला मोरजी कोमा में 169 मतदान हुआ। मोरारजी को यह ठीक से ठीक किया गया था। पहली बार विफल होने की स्थिति में ही वे सफल हुए।

रात तीन बजे तक
इंदिरा गांधी ने 19 1966 को प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। मेरठ में तीन बजे तक। 1980 में शादी की बार शादी की शादी और 31 1984 को शादी के बाद शादी की शादी। इंदिरा का जन्म 19 नवंबर 1917 को इलाहाबाद था। दादा लाल रंग के पौधे और माता कमला पौधे।

ओशो की मृत्यु आज भी रहस्य है
19 1990 को रजनीश ओशो का खराब हो गया था। उनकी मृत्यु आज भी गुप्त है। मध्य मध्य मध्य प्रदेश में रासन के कुचवारा गांव में था। भारत में पोस्ट को पसंद किया गया। इस तरह के विरोध में वे 1981 में अमेरिका में थे। सुबह में बुलाए जाने पर 28 1985 को संपर्क करें। फिर भी, रिहा कर दिया गया। उर्वरक वास्तव में ऐसा किया गया है।

भारत और दुनिया में 19 मौसम इस प्रकार हैं:

2006: रात का मौसम सर्वेक्षण मौसम खराब हो गया। प्लूटो की जानकारी प्राप्त करने के लिए उसे पूरा किया गया।

2000: मासिक तिमाही पर पहली बार WWF चालू हुआ।

1987: नारायण डॅाट ओझल के मौसम के हिसाब से विश्राम करते हैं।

1942: फिसलने की सेना ने बरमा (म्यान्मार) की राजधानी रंगून (अब यंगून) से 235 मिल दक्षिण पूर्व टिवोय पोर्ट पर धारण था।

1907: ग्लोबल ग्लोबल वैराइटी ब्लॉग में बदलाव की तरह।

1905: हिन्दू देवता देवेंद्रनाथ की मौत हो गई।

1883: नार्थ सी में मँद्रविषा और तेज धूप के बीच विस्फोट हुआ। 340 लोगों की मौत हो गई थी।

1597: मेवाड़ के प्रताप सिंह की मौत हो गई।

खबरें और भी…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here