8.9 C
London
Sunday, March 19, 2023
HomeWorld Newsइमरान खान का अरेस्ट-वारंट कैंसिल, 30 मार्च को सुनवाई: कोर्ट ने कहा-...

इमरान खान का अरेस्ट-वारंट कैंसिल, 30 मार्च को सुनवाई: कोर्ट ने कहा- हंगामे में जिरह मुश्किल, अगली सुनवाई में व्यक्तिगत रूप से अलग-अलग

Date:

Related stories

अमृतपाल और वारिस पंजाब दे का AtoZ: लाल किला हिंसा के पंच दीप सिद्धू ने बनाया संस्थान, सितंबर-2022 से अमृतपाल का प्रमुख

हिंदी समाचारस्थानीयपंजाबअमृतसरवारिस पंजाब दे इतिहास अमृतपाल सिंह गिरफ्तार...


कार्यक्षेत्र2 घंटे पहले

लाहौर में इमरान के घर सागर पार्क में एंट्री के लिए पुलिस ने बुलडोजर से उनके घर का दरवाजा तोड़ दिया था।

तोशाखाना मामले में पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान के खिलाफ अरेस्ट वारंट कैंसिल हो गया है। इमरान शनिवार को करोड़ों कोर्ट में पेश होने के लिए पहुंचे थे। इस दौरान उनके समर्थक न्यायालय के बाहर हुक्म चला रहे थे। ऐसे में अतिरिक्त जिला और सत्र न्यायाधीश जफर इकबाल ने पूर्व पीएम की उपस्थिति दर्ज करने के बाद उन्हें वापस जाने की अनुमति दे दी।

कोर्ट ने मामले की सुनवाई 30 मार्च तक स्थगित कर दी और इमरान के खिलाफ जारी गिरफ्तारी वारंट भी रद्द कर दिया। जज ने कहा कि ऐसे माहौल में सुनवाई करना मुमकिन नहीं है। कोर्ट ने अगली सुनवाई में इमरान को व्यक्तिगत रूप से कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया है।

डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, कोर्ट परिसर के बाहर इमरान के साथ छेड़छाड़ करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस का इस्तेमाल किया। इसका इम्पैक्ट कोर्ट में भी महसूस हो रहा था। वहीं, परिसर की जाली पर पथराव भी किया गया।

उद्र, इमरान खान ने एक ऑडियो संदेश में कहा कि ‘मैं 15 मिनट से कोर्ट के बाहर इंतजार कर रहा हूं, लेकिन उन्होंने गैस के गोले दागे हैं। ऐसा लगता है कि वे नहीं चाहते, मैं कोर्ट तक पहुंचूं।

पंजाब पुलिस ने जामन पार्क में इमरान के घर के बाहर जाम लगाने वालों पर लाठीचार्ज किया।

शनिवार को इमरान खान से मिलने के लिए दुर्घटना के बाद पुलिस ने उनके जामन पार्क वाले घर पर रेड की। पुलिस बुल्डोजर से गेट तोड़कर इमरान के घर में पैर रखा था। करीब आधे घंटे तक घर की खोज के बाद पुलिस वापस आ गई।

इमरान ने कहा था- मेरी गिरफ्तारी की साजिश
रनर से मिलने से पहले शनिवार को दिए गए इंटरव्यू में पूर्व पीएम ने अपनी गिरफ्तारी की आशंका जताई थी। इमरान ने कहा था- अगर मुझे गिरफ्तार किया जाता है तो (पीटीआई) को संभालने के लिए मैं एक कमेटी बना चुका हूं। हालांकि, समिति में शामिल लोगों को लेकर खान ने कोई जानकारी नहीं दी।

कोर्ट कैंपस में मीडिया कवरेज पर रोक
पाकिस्तान के इलेक्ट्रॉनिक मीडिया रेग्युलेटरी स्नैपशॉट (PEMRA) ने बोल्डर के ज्यूडीशियल कॉम्प्लेक्स में बस्टल रिलीज़ के मीडिया कवरेज पर रोक लगा दी थी। वहीं, पुलिस ने हिंसा फैलाने और कानूनी कार्रवाई में दखल देने के आरोप में इमरान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के 40 मामले दर्ज किए। उन पर लाठीचार्ज किया गया।

इमरान के काफिले की 3 दुर्घटनाएं अचानक हुईं
सदमे, जाने के रास्ते में इमरान के काफिले के 3 दावे कल्लर के पास आप हैरान हो गए। बताया जा रहा है कि हादसा तेज रफ्तार की वजह से हुआ। यह जगह राजधानी से करीब 135 किमी दूर है। हादसे में कई लोगों के घायल होने की खबर है।

इमरान के काफिले की भविष्यवाणी कल्लर के कहने से अचानक हुई।  यह जगह कार्यक्षेत्र से करीब 135 किमी दूर है।

इमरान के काफिले की भविष्यवाणी कल्लर के कहने से अचानक हुई। यह जगह कार्यक्षेत्र से करीब 135 किमी दूर है।

‘नवाज सरफराज में जेल जाना चाहते हैं’
हादसे के बाद पूर्व पीएम ने कहा- रोकने की कोशिश की जा रही है। वे मुझे गिरफ्तार करना चाहते हैं। ये सब लंदन प्लान का हिस्सा है। नवाज शरीफ की मांग है कि इमरान को जेल में डाला जाए। वे नहीं चाहते कि मैं किसी भी चुनाव में लूं। मैं कानून पर विश्वास रखता हूं इसलिए कोर्ट में पेश होने जा रहा हूं।

हादसे वाली जगह पर इमरान ने मीडिया से बात की।

हादसे वाली जगह पर इमरान ने मीडिया से बात की।

राजधानी में भारी सुरक्षा, धारा 144 लागू
रनकर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। पुलिस ने शहर में धारा 144 दी थी। पाकिस्तान के दूसरे शहरों से करीब एक हजार पुलिसकर्मी सुरक्षा व्यवस्था के लिए मोटे तौर पर बुलाए गए थे।

न्यायिक परिसर के पास मौजूद किसी गार्ड को किसी भी हथियार रखने का लाइसेंस नहीं दिया गया था। वहां से सभी लोगों के आईडी कार्ड भी चेक किए जा रहे थे। इसके अलावा पुलिस ने इलाके में कंटेनर भी रखे हुए थे।

सिकंदर की पेशी से पहले जुडीशियल कॉम्प्लेक्स को सील कर दिया गया है।  यहां भारी मात्रा में आवंटन हैं।

सिकंदर की पेशी से पहले जुडीशियल कॉम्प्लेक्स को सील कर दिया गया है। यहां भारी मात्रा में आवंटन हैं।

जमान पार्क से सीसीटीवी कैमरे पर इमरान की गाड़ी के साथ पीटीआई दर्ज करने की भीड़ भी आई।

जमान पार्क से सीसीटीवी कैमरे पर इमरान की गाड़ी के साथ पीटीआई दर्ज करने की भीड़ भी आई।

लाहौर में इमरान को 9 मामलों में उच्च न्यायालय ने जमानत दी
इससे पहले शुक्रवार को शाम करीब साढ़े 6 बजे इमरान खान लाहौर हाई कोर्ट पहुंचे। यहां कोर्ट ने उन्हें 9 मामलों में प्रोटेक्टिव बेल दे दी थी। 5 मामलों के लिए कोर्ट ने खान को 24 मार्च तक जमानत दे दी है। वहीं लाहौर में चल रहे 3 मामलों के लिए उन्हें 27 मार्च तक जमानत दे दी गई थी।

14-15 मार्च को इमरान की गिरफ्तारी को लेकर सागर पार्क के बाहर पीटीआई कार्यकर्ता और पुलिस के बीच झड़प हुई थी। इसकी तहकीकात के लिए कोर्ट ने पुलिस को सागर पार्क जाने की इजाज़त दी थी।

शुक्रवार को पीटीआई अकाउंट के हुजूम के साथ इमरान लाहौर खान हाई कोर्ट पहुंचे।

शुक्रवार को पीटीआई अकाउंट के हुजूम के साथ इमरान लाहौर खान हाई कोर्ट पहुंचे।

इमरान को गिरफ्तार नहीं कर सका पुलिस
14 मार्च को पुलिस और रेंजर्स की टीम इमरान खान को गिरफ्तार करने के लिए उनके लाहौर वाले आवास पर पहुंचने वाली थी। उन्हें तोशाखाना मामले में गिरफ्तार किया गया था। लेकिन इमरान की पार्टी पाकिस्तान-तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अभ्यर्थियों ने पुलिस पर पत्थरों और लाठियों से हमला कर दिया था। इससे पुलिस इमरान को गिरफ्तार नहीं कर सकी।

पुलिस और रेंजर्स की वापसी के बाद इमरान ने घर से निकलकर शादी से बातचीत की थी।  इस दौरान वो दृश्य गैस से बचाने वाले चश्मे नजर आए थे।

पुलिस और रेंजर्स की वापसी के बाद इमरान ने घर से निकलकर शादी से बातचीत की थी। इस दौरान वो दृश्य गैस से बचाने वाले चश्मे नजर आए थे।

‘जियो न्यूज’ के मुताबिक, पुलिस और रेंजर्स की टीम 22 घंटे बाद खान के लाहौर वाले बंगले (जमान पार्क) से लौट गई थी। एक पुलिस अफसर ने कहा था- लाहौर में 15 से 19 मार्च तक पाकिस्तान सुपर लीग-सीजन आठ (पीएसएल-8) के मैच कज्जाफी स्टेडियम में खेले जाते हैं। शहर में अफ़रातफ़री और हिंसा का माहौल ना बने इसलिए हम गिरफ्तारी को टाल रहे हैं।

लाहौर के सागरन पार्क में इमरान का घर है।  15 मार्च की सुबह सामने आया इस वीडियो में यरेज का हिंसक प्रदर्शन और पुलिस की हरकत सामने आई थी।

लाहौर के सागरन पार्क में इमरान का घर है। 15 मार्च की सुबह सामने आया इस वीडियो में यरेज का हिंसक प्रदर्शन और पुलिस की हरकत सामने आई थी।

14 मार्च को पुलिस ने इमरान के संबंध में वॉलंटर कैनन का इस्तेमाल किया था।

14 मार्च को पुलिस ने इमरान के संबंध में वॉलंटर कैनन का इस्तेमाल किया था।

जानिए तोशखाना मामले से जुड़ी जरूरी बातें…

इमरान पर अब तक दर्ज हुए 80 मामले

  • खान पर अब तक कुल 80 मामले दर्ज हो चुके हैं। खान पर तोशाखाना में जमा गिफ्ट्स को बाइक में खरीदें और ज्यादा दामों में सेल का चार्ज है। इसे पाकिस्‍तान के चुनाव आयोग ने उन्हें 5 साल के लिए अयोग्‍य घोषित किया है। उनकी संसद की सदस्यता भी रद्द कर दी गई है।
  • इस फैसले के खिलाफ इमरान ने चुनाव आयोग (ईसी) के कार्यालय के बाहर हिंसक प्रदर्शन किया, जिसमें कुछ लोग घायल भी हुए। इस घटना के बाद खान के खिलाफ आतंकवाद विरोधी अधिनियम के तहत वारंट जारी किया गया था।
  • पिछले साल 20 अगस्त को एक रैली के दौरान इमरान ने महिला जज और पुलिस अधिकारियों को खुले आम रैकेट कर दिया था। इसी बीच इमरान की पार्टी पीटीआई की लीगल टीम ने बोल्ड हाई कोर्ट में खान की गिरफ्तारी से पहले जमानत याचिका दायर की थी। ये खारिज हो गया।

तोशखाना मामले से जुड़ी 2 तस्वीरें…

जिन तोहफों को इमरान ने उनमें एक बेशकीमती घड़ी, कफलिंक की एक जोड़ी, एक महंगा पेन, एक अंगूठी और चार रोलेक्स वॉच शामिल किए थे।  सरकार के मुताबिक, इमरान ने कुल 111 तोहफे 2.23 करोड़ रुपए (पाकिस्तानी करंसी) में पहुंचे और इन्हें करीब 2.07 अरब रुपए में देखा।

जिन तोहफों को इमरान ने उनमें एक बेशकीमती घड़ी, कफलिंक की एक जोड़ी, एक महंगा पेन, एक अंगूठी और चार रोलेक्स वॉच शामिल किए थे। सरकार के मुताबिक, इमरान ने कुल 111 तोहफे 2.23 करोड़ रुपए (पाकिस्तानी करंसी) में पहुंचे और इन्हें करीब 2.07 अरब रुपए में देखा।

तस्वीर जनवरी 2019 की है।  फोटो में गवर्नर तबुक प्रिंस फहद बिन सुल्तान बिन अब्दुल अजीज अल सऊद ने इमरान को 'गोल्ड कलाश्निकोव' का तोहफा और गोलियां गिफ्ट की थीं।

तस्वीर जनवरी 2019 की है। फोटो में गवर्नर तबुक प्रिंस फहद बिन सुल्तान बिन अब्दुल अजीज अल सऊद ने इमरान को ‘गोल्ड कलाश्निकोव’ का तोहफा और गोलियां गिफ्ट की थीं।

तो शाखानामा मामले में ऐसी पकड़ी थी इमरान की चोरी

  • पाकिस्तान के पत्रकार आरिफ अजाकिया और इमदाद अली शूमरो के मुताबिक- इमरान को सऊदी अरब मोहम्मद बिन सलमान (MBS) ने गोल्ड से बनी और हीरों से बेशकीमती रिस्ट वॉच गिफ्ट की थी। वे दो सीमित संस्करण घड़ियां बनवाईं। एक खुद के पास रखा था। दूसरे इमरान को गिफ्ट की थी। इसकी कीमत करीब 16 करोड़ रुपये थी।
  • इमरान घर आकर यह रिस्ट वॉच पिंकी पीरनी (तीसरी पत्नी बुशरा बिन) को रखने के लिए दे दी। बुशरा ने यह घड़ी उस घड़ी के एक मंत्री जुल्फी बुखारी को देकर कीमत पता करने को कहा। मंत्री ने बताया कि यह तो बेहद खतरनाक है।
  • बुशरा ने उसे बेचने को कहा। ब्रांडेड घड़ी देखकर शो के मालिक ने इसकी मैन्यूफेक्चरिंग कंपनी को फोन कर दिया और समझौते से इमरान की कली खुल गई। मेकर्स ने सीधे एमबीएस के ऑफिस से संपर्क किया और बताया कि आप जो 2 घड़ियां बनवाईं थे, उनमें से एक बेचने के लिए आई है। ये तुम्हारा है या चोरी हुई है?
  • कुछ महीने पहले इमरान की पत्नी बुशरा और दोस्त जुल्फी बुखारी का ऑडियो लीक हुआ। इसमें साफ था कि इमरान के कहने पर ही बुशरा ने जुल्फी बुखारी से संपर्क किया था और उन्हें घड़ियां बिकवाने को कहा था। जुल्फी इमरान सरकार में मंत्री नाकाम हैं और उनके बड़े राजदार माने जाते हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here