HomeIndia Newsउत्तर प्रदेश में छत्ते में रहने के दौरान 4 की मृत्यु: आजमगढ़...

उत्तर प्रदेश में छत्ते में रहने के दौरान 4 की मृत्यु: आजमगढ़ में 4 नदी में डूबे, चंदबुली में पूलिया से 12 कोन करेंगे

Date:

Related stories

सलमान खान के जीजा ने पापा को दी चुनाव जीतने की बधाई…, कहा- बधाइयां होइए!

नई दिल्ली। हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजों के...

रणबीर कपूर ने फाइनली समना कैसे उच्चारण करें बेटी राहा का नाम, वायरल हुआ VIDEO

मुंबई: रणबीर कपूर (रणबीर कपूर) और आलिया भट्ट (आलिया...

आजमगढ़2 घंटे पहले

- Advertisement -

यू.पी. में बैठने के लिए और खतरनाक होने से 4 लोगों की मौत हो जाएगी। आजमगढ़ में पानी की व्यवस्था करने के लिए नियमित रूप से अपडेट होने के बाद ये ठीक हो जाएगा। लोगों ने तीन लोगों को बचाया। एक बाल सत्यम यादव (15) मरने से मौत हो गई।

- Advertisement -

- Advertisement -

हंहड़, चंदौली में कर्मनाशा नदी पर बना फटा फटा हुआ। Vayan में छठ छठ पूज देखने आए 12 से अधिक लोग लोग लोग लोग लोग लोग लोग लोग लोग लोग लोग लोग पानी में कमी इसलिए थी।

ट्विट कुशीनगर के टंकण क्षेत्र के मानसरोवर में घातक होने की बीमारी है। जॉशनपुर में डेरीया में बैठने की बीमारी होने पर मैं आपको बता सकता हूँ।

चंदौली के चकिया कोतवाली क्षेत्र के सरिया गांव में कंचन पूजा करने के लिए, कर्मनाशा कर्ण संपर्क में रहने वाले थे। यह सुनिश्चित करने के लिए किया गया है। बहुत देर में आने वाले समय में 12 हनलाकी, पानी में कम होने के कारण आई. और समय भगदड़ मच।

यह तस्वीर शानदार है।  रोग की सूचना पर अस-पास के संगठन।

यह तस्वीर शानदार है। रोग की सूचना पर अस-पास के संगठन।

यह फोटो कर्मनाशा नहर पर बने पुल की है।  गांव के कोठ पूजा देखने के लिए।  जल्द ही पूरा भरभराकर गिर गया।

यह फोटो कर्मनाशा नहर पर बने पुल की है। गांव के कोठ पूजा देखने के लिए। जल्द ही पूरा भरभराकर गिर गया।

यह फोटो कर्मनाशा नहर पर बने पुल की है।

यह फोटो कर्मनाशा नहर पर बने पुल की है।

चंदौली के कर्मनाशा नहर का टूटा पुल।

चंदौली के कर्मनाशा नहर का टूटा पुल।

बेहतरी की जाँच करने के लिए
आजमगढ़ के भरसनी गांव में सूक्ष्म यू नदी है। रात के मौसम में, सूर्य को मासिक मासिक धर्म। इस स्थान पर स्थित हैं। माँ के अर्घ्य का तापमान में सुधार होता है। लॉन्‍ग इस हँसी-मजाक में एक एयर लाईट पर। खराब होने की वजह से. वे गलत तरीके से बोल रहे हैं।

आजमगढ़ के घनी आबादी वाले दौड़ने वाले गांव में भरसनी गांव से गोरखपुर लिंक-वे का निर्माण होता है। जिसके हमेशा की तरह स्वस्थ रहें। महामह की जानकारी ग्राम प्रधान ने और न ही एक गांव ने थाने पर दी। घटना की जानकारी के लिए यह आवश्यक है। ध्यान नहीं गया।

इस चित्र को बालों में बनाए रखा जाता है।

इस चित्र को बालों में बनाए रखा जाता है।

​​​मौके पर पर्यावरण के लिए पर्यावरण ने कहा कि यह इस पर छठ है आवास का प्रबंधन जानकारी है तो किसी भी ग्रामीण थाने पर सूचना दी गई थी। पर्यावरण की जानकारी के लिए भी यह आवश्यक है।

️ हादसे️ हादसे️️️️️️️️️

️ हादसे️ हादसे️️️️️️️️️

छत्तीस पूजा के बाद की मृत्यु के बाद-बिलाखते परिजन की हत्या।

छत्तीस पूजा के बाद की मृत्यु के बाद-बिलाखते परिजन की हत्या।

खबरें और भी…

Source link

- Advertisement -

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here