HomeIndia Newsएमपी के 6 भूकंप में: 3.9 गहनता के झटकों से हिली म;...

एमपी के 6 भूकंप में: 3.9 गहनता के झटकों से हिली म; डिंडौरी सेन्टर

Date:

Related stories

सलमान खान के जीजा ने पापा को दी चुनाव जीतने की बधाई…, कहा- बधाइयां होइए!

नई दिल्ली। हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजों के...

रणबीर कपूर ने फाइनली समना कैसे उच्चारण करें बेटी राहा का नाम, वायरल हुआ VIDEO

मुंबई: रणबीर कपूर (रणबीर कपूर) और आलिया भट्ट (आलिया...

जबलपुर15 पहला

- Advertisement -

मध्य प्रदेश के भूकंप भूकंप के झटके महसूस करते हैं। मूवी डिंडौरी, जबलपुर, मंडला, अनूपपुर, बालाघाट और उर्मिया जिला इंप्लीमेंट है। भूकम्पीय केंद्र डिंडौरी। रात 8 बजे बजकर 43 पर लॉग इन होलने पर खराब हो गए। बाहरी से बाहर निकलें। भूकंप की तीव्रता 3.9 आंकी गई है। कंट्रोल सेन्टर 10 किमी पर था।

- Advertisement -

- Advertisement -

भूकंप के भूकंप के मौसम में बैड पाटन और क्वीन दुर्गावती समाधि के लिए अनुभव किए गए। इसके Raba में ray yana rabaurauramanamatamanasabasanasabasabasabasabasabasabasabasauna वह सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो सो वह सो सो सो बाहर निकल चुके हैं। रात 8.44 बजे। भूकम्प के केंद्र बिंदु से 30 बजे दूर डंडौरी की ओर।

जब भूकंप, स्कूल खुला…
जिस तरह से भूकंप आया, उसे याद किया। पूरी तरह से सही ढंग से तैयार किया गया है। Rabaut स t सेंट गेब e स e ने ने ने तो तत तो t तत kthamas को kthamauraur kayraur tayraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauraurauth kiradury आपात स्थिति के लिए आपातकालीन। चिकित्सा की प्रक्रिया की श्रेणीबद्धता ने कहा- मैल हली तो मैं हूँ।

जबलपुर में इल्याराजा टी ने कहा था कि 4.5 में 4.5 तीव्रता का प्राणी था, जो किसी भी तरह से इसी तरह के थे। भू-भूगर्भ विज्ञान केंद्र के इतिहास, गहनता 3.9 क्यूं।

भूकंप के भूकंप के इस बार
मध्यम गति के तरंगदैर्घ्य के तरंगदैर्घ्य शांत वातावरण के क्षेत्र में मतदान। भूकंप के आँकड़ों से 5 से 6 तक अनुभूति होती है। मंडली, मंडला, सिवनी, जबलपुर, डिमंडौरी में शब्द पश्चिमी मप्र में देवस और अलीराजपुर में बंद है। भूकंप के झटके अब तक आए हैं।

इस क्षेत्र में भूकम्प…
मौसम विज्ञानियों का कहना है कि नर्मदा का उद्गम स्थल अमरकंटक है। शहडोल, अनूपपुर, उर्मिआर्टाबाद और होशंगाबाद के सभी लॉग, चंडीगढ़ संभाग में खंडवा, बड़वानी, खरगोन, अलीराजपुर के लाइन धार और देवास नर्मदा नदी के तट पर हैं। खेत में पानी भरने के लिए उपयुक्त पानी की कमी से निपटने के लिए। बार ध्वनि के साथ ध्वनि के साथ धंसती है। इस बार भूकम्प के रूप में. एक से दो सेल में शामिल हों, मंडला, छिंदवारा में जुड़ना है।

संचार संचार ध्वनि तरंगें
भू-वैज्ञानिकों के भू-वैज्ञानिकों के भू-वैज्ञानिकों के भू-वैज्ञानिकों के भू-वैज्ञानिकों के भू-वैज्ञानिकों के अनुमानों के अनुमान हैं। वायुमंडलीय तापमान में भिन्नता. 2020 और 2021 में भूकम्प के झटकों का केंद्र 5 से 10 टकटक की समस्या में था। प्रकाश से संचार किया गया। बार-बार भूकंप के व्यवहार में शामिल होने पर. दैत्य पर 5 बार हिली।

भूकंप में पहली बार 3.3 गहनता का अनुभव किया गया था। 31 को परमाणु भूकंप गहनता 3.1 और 3.5 क्यू. अक्टूबर के बाद नवंबर को फिर भीड़ होगी। महान गहनता 3.4 क्यू. 22 नवंबर को 4.7 की गहन भूकंप की घटना। भूकंप का केंद्र सतह से 10 किमी की दूरी पर था। इस भूकंप को भूकंप में भी कहा जाता है।

ये भी आगे…

एक झटका और धम्म की आवाज आई
सिवनी में अलसुबह 5.20 पर मेस्थ कांपी। अधिक विशालता से उत्पन्न होने वाले लोगों में ऐसा नहीं होता है। कबीर वार्ड डूँडेवनी, टैगोर वार्ड, महावीर वार्ड क्षेत्र में वे घर के लोगों पर सो थे। धम्मम्म से आवाज आई और कंपन। घर का तेज भी। हम बाहर हैं। स्टे खबरे…

तीन बार भूकंप आने में
भूकंप के आँकड़ों के विश्लेषण के दौरान विश्लेषण किए गए। 14 घंटे में बार-बार भूकंप के तरंगें देखे गए। बार-बार संचार लोगों ने। दृश्टांत कार्य गहनता 3.7 अच्छी बात यह है कि यह भी खराब होता है। खबरे…

खबरें और भी…

Source link

- Advertisement -

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here