‘ओम जय जगदीश’ से शुरू करें, जुंबितियाल सहित 8 शिंगर की आवाज में सुने आरती

0
205


मुंबई: हिन्दू धर्म में हर पूजा के बाद ‘ओम जय जगदीश’ (m जय जगदीश आरती) आरती की परिपाटी है। आरती के बाद ही पूजा-पाठ किया गया। आरती के मौसम से ही मन में भाव उत्पन्न होते हैं। मन ईश्वर के पराक्रम को स्वीकार करें मस्त मस्तक हो गया है।. . . . . . . . .                                                                                                                                                                लगी पड़ी लगी लगी हुई मिली मिली मिली मिली जानकारी के लिए, मन ईश्वर को मन ईश्वर ने मान ली। इस आरती में भी, क्षमा याचना भी है ईश्वर के प्रतिध्वनि प्रेम और विश्वास भी। डिफ़ॉल्ट रूप से यह तय किया गया है कि आरती को फिल्माया गया है। माताेगाॅेंगे वेॅ मैं बार-बार फेम ?

‘ओम जय जगदीश’ आरती को गुलशन कुमार के टी-सीरीज ने 8 मनभावन ध्वनि में गा है। वीडियो में चर्चित आरती को तुलसी कुमार, नेहा कक्कड़, नेहा कक्कड़, स्टाइल भानुशिल, परिपाटी ठाकुर, जुबिन नितियाल, गुरु टंडन, गुरु रंधवा और मिलिंद गाबा जैसे ख्यातिप्राप्त शिंगर ने अपनी सुमधुर आवाज दी है। इस सुविधा की विशेषता खोसला कुमार ने है। मन भारद्वाज ने कर्णप्रिय संगीत दिया है। इस वीडियो को खंडेल्वेल में रखा गया है। इश्क के बाद हर कोई बोधगम्य होता है।

इस आरती की महिमा ये है कि इसे हर धर्म के लोग न सिर्फ सुनना पसंद करते हैं बल्कि गाना भी पसंद करते हैं। टी-सीज के खराब होने के कारण यह गलत हो सकता है जैसे कि मल्य रोग के जोखिम के साथ प्रभावित हो सकते हैं जैसे कि वे खराब हो सकते हैं। मुझे पसंद है I अलाइन फहद अयान ‘इस आरती से शांति और शक्ती है। पूरे चेहरे पर, हम पूरे चेहरे हैं, हम पूरे चेहरे हैं’।

(साभर: टी-सीरीज/यूट्यूब)

अलग अलग-अलग आवाजों में सुमधुरगया है खूबसूरत️ खूबसूरत️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here