HomeIndia Newsकमलनाथ ने काट लिया हनुमानजी का फोटो केक: भाजपा बोली-ये भगवान श्रीराम-हनुमान...

कमलनाथ ने काट लिया हनुमानजी का फोटो केक: भाजपा बोली-ये भगवान श्रीराम-हनुमान का अपमान

Date:

Related stories

नाबालिग को किस करने की कोशिश, 5 साल की जेल: ड्रेस दिए जाने के बाद छत पर छा गया था

हिंदी समाचारराष्ट्रीयमुंबई में लड़की को जबरदस्ती किस करने की...

छिंदवाड़ा/भोपाल35 मिनट पहले

- Advertisement -

मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें हनुमानजी की फोटो लगे हुए दिख रहे हैं। केक की संरचना मंदिर की तरह है। इसकी फोटो और वीडियो सामने आने के बाद बीजेपी ने इसे भगवान श्रीराम और हनुमानजी का अपमान बताया है।

- Advertisement -

- Advertisement -

ये वीडियो छिंदवाड़ा के शिकारपुर का है, जहां एक दिन पहले उन्होंने यह केक काटा था। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का जन्मदिन 18 नवंबर को है, लेकिन उनके प्रशंसकों और पार्टियों ने पहले ही उनका जन्मदिन मना लिया है। बीजेपी ने वीडियो सोशल मीडिया पर जारी कर इसे गलत बताया। कहा- ये हिंदू आस्था के साथ खिलवाड़ है।

4 अक्षर का केक, सबसे ऊपर हनुमानजी की तस्वीर
केक 4 रिपोर्टर है। नीचे पहले अक्षर पर लिखा है- हम छिंदवाड़ा वाले हैं, इससे ऊपर दूसरे पर- जीवेत शरद: शताब्दी, तीसरे पर कमलनाथ जी और चौथे गीतकार पर जन नायक लिखा है। चौथा अक्षर पर हनुमान जी की फोटो है। केक पर मंदिर की तरह शिखर है। झंडा लगा है। कमलनाथ कार्य नोटिस आ रहे हैं। साथ में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेंद्र गुप्ता और अन्य लोग भी हैं।

केक 4 रिपोर्टर है।  चौथे अक्षर पर हनुमान जी की फोटो है।  मंदिर की तरह शिखर है।  झंडा भी लगा है।  इसी केक को काटने को लेकर बवाल हो रहा है।

केक 4 रिपोर्टर है। चौथे अक्षर पर हनुमान जी की फोटो है। मंदिर की तरह शिखर है। झंडा भी लगा है। इसी केक को काटने को लेकर बवाल हो रहा है।

लोग बता रहे हैं अंडे का केक था
छिंदवाड़ा में भाजपा का जिलाध्यक्ष साहू ने बा-कायदा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा- पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भले ही जी हनुमान का मंदिर बनाया है, लेकिन उनके मंदिर में जरा भी आस्था नहीं है। अक्सर उनका पूरा परिवार और वे खुद को हिंदू धर्म की आस्था से ऊंचा करने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं।

उन्होंने कहा- चाहे विधानसभा चुनाव हो या लोकसभा चुनाव हो, कमलनाथ और उनके परिवार के दृश्य छिंदवाड़ा आते हैं। अभी तो उनकी जमीन खिसकती दिख रही है, क्योंकि वे 15 महीने में काम कर रहे हैं, लेकिन चुनाव से पहले किए गए अपने काम पूरे नहीं पाए।

भाजपा जिला अध्यक्ष ने कहा कि यह घटना निंदनीय, दुखदाई है। ये जन्मदिन अभी नहीं है, लेकिन नौटंकी करते हुए 5 दिन से छिंदवाड़ा में अपना जन्मदिन मना रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि लोग कथन हैं कि ये अंडे का केक था। क्या अंडे के केक पर हनुमान जी की फोटो लगाना ठीक है? अभी तो ये गुजरात के स्टार प्रचार कर रहे हैं, लगता है कि ये वहां पर संदेश देना चाहते हैं कि हिंदू धर्म का मजाक उड़ाना और चुनाव जीतो।

कमलनाथ का जन्म 18 नवंबर को है।  उनके प्रशंसक और कार्यकर्ता जन्मदिन मनाने के लिए पहले से ही केके कटवा रहे हैं।

कमलनाथ का जन्म 18 नवंबर को है। उनके प्रशंसक और कार्यकर्ता जन्मदिन मनाने के लिए पहले से ही केके कटवा रहे हैं।

इस खबर को आगे पढ़ने से पहले पोल में भाग लेकर अपनी राय दे सकते हैं –

हिंदू सहिष्णु, दूसरे धर्म का मामला होता है तो सिर झंडे से अलग के नारे लग जाते हैं: बीजेपी
भोपाल में बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता आशीष अग्रवाल ने कहा, सनातन धर्म के आराध्यों को तोड़ते और काटते हुए मुगलों का सच नहीं हो पाया, तो कमलनाथ का कैसे हो लिमिट। वो तो हिंदू धर्म की सहनशीलता है, जो वे ऐसे कार्य करके भी बच जाते हैं। अन्यथा मैं चुनौती देता हूं कि वे अगर किसी दूसरे धर्म के आराध्य का ऐसा केक काटते हैं, तो सिर झगड़ने से अलग होने के नारे लग जाते हैं। कमलनाथ को सनातन धर्म से जोक मांगनी चाहिए। कांग्रेस को भी इस पर अपनी सफाई से गुजरना पड़ता है।

बीजेपी ने इसे हिंदुओं की भावनाओं से गीतवाड़ बताया। बीजेपी ने ये ट्वीट किया –

कमल बोले पटेल- सब कांग्रेसी नास्तिक हैं
हनुमानजी का फोटो लेने वाला केक काटने का वीडियो सामने आने के बाद मंत्री कमल पटेल ने कांग्रेस पर तीखा हमला बोला, उन्होंने कहा कि – कमलनाथ जी हो या कांग्रेसी… वैसे तो ये सब नास्तिक हैं, भगवान को मानते ही नहीं हैं, ये कहते हैं राम काल्पनिक हैं, लेकिन देश के अंदर एक नई क्रांति आई है। राम मंदिर का निर्माण हो रहा है। ये समझे गए, वोट की राजनीति के लिए धार्मिक बन रहे हैं। ये अच्छी बात है नास्तिक भी आस्तिक बन रहे हैं।

ये हमारी सफलता है। ये हमारा आंदोलन राम जन्मभूमि की जीत है कि नास्तिक भी आस्तिक हो रहे हैं। लेकिन भगवान की भारतीय संस्कृति के अनुसार पूजा अर्चना करें, ना कि पाश्चात्य संस्कृति की तरह केक काटे। इसकी जनता भी आलोचना कर रही है।

कमलनाथ ने दूसरा केक काटा, फोटो वाला नहीं
कांग्रेस मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष संगीता शर्मा ने कहा, भारतीय जनता पार्टी के पास कोई माइल नहीं रहता है, तो धर्म और लोगों की भावनाओं को भड़काने का काम करते हैं। कमलनाथ, हनुमान जी के भक्त हैं। उनके समर्थक हनुमान जी के फोटो वाले केक लेकर पहुंचे थे, लेकिन कमलनाथ ने इस केक को नहीं काटा। दूसरे केक को काट दिया जाता है। भाजपा ऐसे मुद्दे लाकर अपनी दुकान चलाने का काम करती है। ये छोटी और निम्न स्तर की राजनीति है।

खबरें और भी हैं…

Source link

- Advertisement -

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here