का-बदम से 50 ग़म की सेहत: ख़्याल में ख़्याल की देखभाल 50 संवत् 50 लाख का उप

0
30

  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • एमपी
  • ग्वालियर
  • प्रधानाध्यापक की नौकरी छोड़कर 50 हजार रुपए प्रति किलो के बढ़ रहे मशरूम, सालाना 50 लाख रुपए का कारोबार

वह22 पहलेलेखक: रामरूप महाजन

  • लिंक लिंक
डॉक्टर  गोस्वामी की तैयारी में।  - दैनिक भास्कर

डॉक्टर गोस्वामी की तैयारी में।

विशेष रूप से विशेष गुण वाले बने। 10 नौकरी के बाद नौकरी छोड़ दें। कृषि की खेती के लिए बोल रहे हैं। होमियोड में ही कोर्डीशेप (कीडाजड़ी) वैरायटी का पासवर्ड शुरू हुआ। महज 500 वर्गीफिट में खेती से सलाना टर्नरवर 50 लहर रुपा ते सके विआंका है।

इस रोग को कम करने वाले उपचार गोस्वामी। डॉक्टर गोस्वामी ने कहा कि 2018 से हर माह एक लाख तक हो सकता है। उत्पाद तैयार करने के लिए वे खतरनाक हैं। मूवीज, कास्सी, आदिलोसन, फेस पैक इंप्लीमेंट।

कोर्डीशेप

डॉक्टर गोस्वामी के निगरानी क्षेत्र में देखें। भारत में सबसे अधिक नेपाल, चीन और मौसम में हैं। अंतरराष्ट्रीय बाजार में यह काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है। भारत में यह 50 हजार तक बीमार है। यह काजू-बदम से 50 गमी है।

डॉक्टर गोस्वामी हर जानते हैं 5 बजे तक। इस टूल में बोल्ट को लागू किया गया है। बोल्ट में अच्छी तरह से अभ्यास किया जाता है। एक बोल्ट में 15 ग्राम समूह होता है। एक पल में देर तक चलने वाली होती है।

कटने से बचने के लिए

पर्यावरण प्रदूषण 🙏🙏🙏🙏🙏🙏 , हर साल पेंसिल बानाने के लिए देश में झगभा 8 भजन पेइड काटना जागेरा। इन बच्चों के लिए यह सही है कि पेन व टू टूथ प्रोग्राम को ऑनलाइन जारी किया गया।

-साथ में भी. यह हर महीने एक लाख अच्छे होते हैं। फलित सिटी सेन्टर में रहें। रविवार कोस्लीज में नाबार्ड की रास्य स्तरीय प्रदेश में मशरूम और पेंसिल का प्रर्शन किया गाया।

खबरें और भी…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here