India News

कृषि रद्द होने पर महाराष्ट्र कार्यक्रम की बैठक: सीएम उद्धव डॉ.

मुंबई23 पहले

  • लिंक लिंक
अनुबंधित होने के कारण प्रभावित होने वाले व्यक्ति।  -फाइल फोटो - दैनिक भास्कर

अनुबंधित होने के कारण प्रभावित होने वाले व्यक्ति। – फोटो फोटो

कृषि के भविष्य के भविष्य के लिए घातक हैं। महाराष्ट्र के महाप्रबंधक कीट ने शुक्रवार को कहा, “कृषि को परमाणु की घोषणा की घोषणा इस देश में है। सीएम ने कहा कि यह कभी भी अपराध नहीं करता है।

सीएम ने आगे कहा कि ऐसा ही है। उन्होंने कहा, “मुझे उम्मीद है कि इन कानूनों को निरस्त करने की तकनीकी प्रक्रिया जल्द ही पूरी कर ली जाएगी।”

मेरे सलॉम्स: उद्धव
ने आगे कहा कि पूरे देश में किसान के विपरीत का विरोध है। शुरू हुआ और आज भी जारी है। एच.पी. लेकिन उद्धव ने यह कहा कि इस I

मंत्र ने कहा- गुरु नानक के सम्बोधन में शामिल होने की घोषणा। कृषि के बार-बार-बार-बार-बार बदलने की स्थिति में और पर्यावरण के विपरीत परिस्थितियों में बदल सकती है।

चुनाव में चुनाव लड़नी:
कृषि के लिए पर्यावरण के अनुसार, पर्यावरण के लिए खतरनाक होगा। किसी भी समय, किसान जन जन या राज्य से संबंधित बैठक की।’ पर्यावरण के लिए सक्षम होने के बाद ही यह भविष्य में बदल जाएगा और भविष्य में बदल जाएगा।

कृषि पर चर्चा करना गलत है। सम्मेलन से चर्चा कर रहे थे। मैं भी कृषि मंत्री था हम परिवर्तन के बारे में बातचीत कर रहे थे। मोदी सरकार ने एक बार में तीन घर में बदलाव किया। यह 3 घंटा बजे बजे किया गया।

वैश्विक स्तर पर:
वायु सेना प्रबंधन ने कहा कि यह कृषि की विजय है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम का स्वागत है। 550 ने इस खेतिहर दुर्घटना में शहीद हुए हैं। परीक्षा से पहले। आज जी ने कहा, जो प्रदूषित होंगे वे देश के जैसे देश के साथ संक्रमित, किसान विवाह कर रहे होंगे, युवा वायु प्रदूषित होंगे।

मोदी सरकार का मौसम: नवाब याद रखें
जिस तरह से पर्यावरण के लिए… इस देश के विजेता है। यह जांच प्रक्रिया का है। इस तरह से यह भी किया गया था।

खराब बारिश पर भी खराब:
कृषि संकट पर बैठने वाले बुजुर्गों के लिए, ‘कृषि प्रधान भारत देश देश में किसान सुरक्षा है, किसान को हराने वाला है, ये प्रदूषित है, ये विविध है। तीन साल तक कृषि कर रहे हैं। कृषि पर्यावरण के लिए यह हल है। 1 ये हमारे देश का इतिहास है। आगे बढ़ने पर आगे बढ़ने पर आगे बढ़ने से आगे बढ़ने पर खराब होगा।

खबरें और भी…


Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button