HomeTechnology Newsखाने से लेकर दवा और सैलरी के लिए विवरण से अपडेट, कोरोना...

खाने से लेकर दवा और सैलरी के लिए विवरण से अपडेट, कोरोना के कारण कड़ी पाबंदी से परेशान | चीन में Apple iPhone प्लांट में हिंसक विरोध प्रदर्शन

Date:

Related stories

19वीं सदी में बनी 2 मंजिला इमारत जल कर खाक हुई | 19वीं शताब्दी में बनी दो मंजिला इमारत जलकर खाक हो गई

प्रत्यक्षएक मिनट पहलेकॉपी लिंकअमेरिका के प्रत्यक्ष में रविवार सुबह...

शंघाई4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
- Advertisement -
- Advertisement -

चीन के झेंग्झौ में छोटे बनाने वाले फॉक्सकॉन टेक्नोलॉजी के प्लांट में सैकड़ों कर्मचारी सुरक्षा कर्मियों से प्लेऑफ में गए। यहां करीब एक महीने से कोरोना महामारी के कारण सख्त पाबंदियां हैं और कर्मचारी खाने से लेकर दवा और सैलरी को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। इसका कुछ वीडियो भी सामने आया है जिसके आधार पर ब्लूमबर्ग ने एक रिपोर्ट प्रकाशित की है।

- Advertisement -

वर्कर को लातों से फॉर्मेट करें
वीडियो में दिख रहा है कि कुछ मजदूर सफेद रंग के कपड़े पहनकर गार्ड से जीत गए हैं। एक अन्य वीडियो में गार्ड जमीन पर लेटे एक मजदूर को पीटते हुए नजर आ रहे हैं। इसी दौरान लड़ाई, लड़ाई के नारे सुनाई दे रहे हैं। एक अन्य वीडियो में भीड़ बैरिकेड्स को पार कर आगे बढ़ गई और पुलिस कार को घोर-जोर से चिल्लाते हुए वाहन को हिलाना शुरू कर दिया।

इस वीडियो को ट्विटर पर @violazhouyi नाम के वैरिफाइड हैंडल से शेयर किया गया है।  वीडियो शेयर करते हुए चीन के टेक रिपोर्टर वियोला झोउ ने लिखा, 'फॉक्सकॉन के एक कर्मचारी ने झेंग्झौ फैक्ट्री में चल रहे विरोध से लाइव शूटिंग शेयर की।  उन्होंने कहा कि मांग की मांग को लेकर मजदूर दंगा विरोधी पुलिस से भिड़ गए।

इस वीडियो को ट्विटर पर @violazhouyi नाम के वैरिफाइड हैंडल से शेयर किया गया है। वीडियो शेयर करते हुए चीन के टेक रिपोर्टर वियोला झोउ ने लिखा, ‘फॉक्सकॉन के एक कर्मचारी ने झेंग्झौ फैक्ट्री में चल रहे विरोध से लाइव शूटिंग शेयर की। उन्होंने कहा कि मांग की मांग को लेकर मजदूर दंगा विरोधी पुलिस से भिड़ गए।

वर्कर्स ने मैनेजर को घोर अपराध किया
एक अन्य वीडियो में नाराज वर्कर्स ने कॉन्फ्रेंस रूम में मैनेजर को नेकड लिया। वो अपने COVID टेस्ट पर सवाल उठा रहे थे। एक मजदूर ने कहा, ‘मैं इस जगह को लेकर डरा हुआ हूं, हम सभी अब कोविड दावेदार हो सकते हैं।’ एक और शख्स ने कहा, ‘तुम हमें मरने के लिए मुंह में भेज रहे हो।’ चश्मदीदों के अनुसार, अधिकार न होने और आरोपों की आशंकाओं को लेकर ये विरोध शुरू हुआ है। इसमें कई मजदूर घायल हो गए हैं।

दवाओं के लिए भी लगातार
झेंग्झौ की ‘आईफोन सिटी’ में 2 लाख से ज्यादा लोगों की वर्क फोर्स है। इनमें से ज्यादातर को अलगाव में रहने के लिए मजबूर किया जा रहा है। इसलिए ही इन्हें लंबे समय से सामान्य सामान्य खाना मिल रहा है और दवाओं के लिए भी बाकी है। ऐसे में कई लोग पिछले महीने प्लांट से भाग लिए। फॉक्सकॉन और स्थानीय सरकार ने अब नए कर्मचारियों को आकर्षित करने के लिए बेहतर काम की स्थिति का वादा किया है।

एपल के लिए वॉर्निंग
चीन में फॉक्सकॉन की स्थिति एपल के लिए वोर्निंग की तरह है। ये एपल को याद कर रहा हूं वो चीन पर हमेशा के लिए नहीं रह सकता। चीन की इस फैक्ट्री में हर मिनट करीब 350 का उत्पादन किया जा सकता है। झेंग्झौ में फॉक्सकॉन की 2.2 वर्ग मील की फैसिलिटी फेल हो गई है और इसमें 3,50,000 कर्मचारी काम कर सकते हैं। झेंग्झौ में फॉक्सकॉन का प्लांट उसे सिटी भी कहता है।

झेंगझौ मैन्युफैक्चरिंग साइट पर 94 प्रोडक्शन लाइन्स हैं। साइज़िंग में पॉलिशिंग, सोल्डरिंग, ड्रिलिंग और साइड स्क्रू सहित लगभग 400 स्टेप्स लगते हैं। यह सुविधा एक दिन में 500,000 का उत्पाद कर सकती है।

खबरें और भी हैं…

Source link

- Advertisement -

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here