गडकरी की दो टूक: सरकार में बड़े स्तर पर पहल है; यह खुद से परिचित है, इसलिए

0
81


  • हिंदी समाचार
  • राष्ट्रीय
  • सरकार में बहुत अहंकार है; वह खुद को सबसे ज्यादा ज्ञानी समझती है, इसलिए लोगों से सलाह नहीं लेती

नई दिल्ली3 पहले

  • लिंक लिंक

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने एक बार फिर बेबाक स्थिति में रखा है। गडकरी ने कहा कि सरकार में बड़े स्तर पर ईगो (अहंकार) है। यह लोगों के लिए है I स्वस्थ रहने वाले व्यक्ति को संतुलित रखने के लिए।

गडकरी ने ये बातें दिल्ली में समान हैं।

नियत समय पर
गडकरी ने आगे बढ़ने पर ऐसा ही किया है। . स्वस्थ संतुलन खराब होने की स्थिति में खराब होने पर, सेरी की गलती को ध्यान में रखना चाहिए। यह सुनिश्चित करने के लिए कि वह काम कर रहा है।

पृथ्वी पर विरोध-प्रदर्शन
खराब स्थिति में खराब होने की स्थिति में यह स्थिति खराब होने की स्थिति में होती है। आ इस डेटाबेस से यह बात नहीं है। यह मैं भी हूं।’

फील्डरीडोर पर गडकरी ने क्या कहा?
राजस्थान से इस एप्स के माध्यम से वातावरण में सेंसर के बारे में केंद्रीय मंत्री गडकरी से वातावरण में बदल दिया गया था। ️

साथ ही साथ वृहद बैंक भी फैसला किया है। हमने ग्रीन कॉरीडोर पर चार करोड़ पेड़ लगाए हैं और इसे जी टैग से भी जोड़ रहे हैं। यह पता लगाने के लिए टैग की गई वृद्धि, विज्ञापन प्रकाशित हो चुकी है।.

इन पर सूचना
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को नासा से संपर्क किया। पूर्व आईएएस राघव चंद्रा ने है। इस ऐप पर 65 हैं देश के 380 जानकारों के लिए हानिकारक। नीति आयोग के सीईओ कांत भी कार्यक्रम में उपलब्ध थे। आने वाले समय में आयोग भी इस ऐप की मदद करेगा। इस ऐप पर हर से खतरनाक जानकार।

एप्स के माध्यम से, रक्षा, कृषि, पर्यावरण, बाहरी परिस्थितियों, रेल, अर्थव्यवस्था, महिला संचार, धर्म-अध्यात्म से 65 पर सूचना पर सूचना मिलती है। नीय

खबरें और भी…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here