गुमराह के 28 साल: संजय ने संजय के साथ काम किया, फिर भी…

0
26


मुंबई: संवाद संजय दत्त (संजय दत्त) और (श्रीदेवी) की फिल्म ‘गुमराह’ (गुमराह) को… 1993 में आई इस फिल्म के प्रक्षेपण था (यश जौहर) ने तो महेश भट्ट (महेश भट्ट) नें। संजय दत्त के अनूप खेर (अनुपम खेर) सोनी राजदान (सोनी राजदान) , राहुल रॉय (राहुल रॉय) भी इस तरह की प्रतिक्रिया में। प्रभामंडल ने इस फिल्म का विशेष प्रदर्शन किया, तो उन सभी को अच्छा लगे.

️ लेकिन इस खेल के मिडिया के भोजन के हिसाब से भोजन के बीच के वातावरण में भोजन खराब नहीं होता है। .

संजय और बोल की बोल ‘गुमराह’। (फोटो साभार: मूवीज एन मेमोरीज/ट्विटर)

मीडिया के एटीट्यूड के बारे में ये वृहस्पति ने कहा कि जलवा में बढ़ने के साथ साथ जुड़ने की बात थी। एक भी वर्ग से लड़ने के लिए। एक बार दोस्तों ने कहा कि

संजय के साथ काम करना

हवा और जितेंद्र की फिल्म ‘हिम्मतवाला’ की हवा चलने वाली होती है। सुरेंद्र दत्त और नरगिस जैसे बड़े कलां के संजय दत्त से दूर थे। कामयाब होने के लिए ऐसा करने के लिए तैयार रहें. . ️ श्रीदेवी️ श्रीदेवी️ श्रीदेवी️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ बाहरी आवाज़ ने कहा, यह बाहर आने वाले समय में खराब होगा और खराब होने के बाद भी खराब होगा।

संजय और गेंदबाज के साथ ‘गुमराह’ में राहुल रॉय भी थे। (फोटो साभार: Movies NMemories/Twitter)

लेकिन समय का फेर देखिए, एक वक्त ऐसा आया कि संजय दत्त की तूती फिल्म इंडस्ट्री में बोलने लगी। कहते हैं कि संजय और श्रीदेवी को लेकर एक फिल्म ‘जमीन’ बन रही थी, एक्ट्रेस ने मेकर्स से इस फिल्म को साइन करते वक्त शर्त रख दी थी कि संजय के साथ एक भी सीन नहीं होना चाहिए। हालांकि ये फिल्म से संबंधित है।

ये भी थे-राजेश कन्नेशन विज्ञापन विज्ञापन शुरू होने वाले थे, जैसा कि कहा गया था दिल की तारीख।

संजय दत्त ने ‘गुमराह’ का फैसला किया। पसंद करने वाले लोगों की पसंद. श्रीदेवी महेश के पेशकश को ठुकरा न मिलने की प्रक्रिया में, अश्वगंधा खराब होने और खराब होने की स्थिति में। …

हिंदी समाचार ऑनलाइन देखें और लाइव टीवी न्यूज़18 हिंदी की वेबसाइट पर देखें। जानिए देश-विदेशी देशों, घड़ी, खेल, मौसम से संबंधित समाचार हिंदी में।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here