चलने वाला बस पर जीर्ण पर्वत: किनौर-हरिद्वार उच्चवे उच्चवे- ट्राक वात 6 पर चलने की स्थिति में, 2 की मृत्यु में 60 से अधिक दरबार में

0
151


  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • हिमाचल
  • शिमला
  • किन्नौर (हिमाचल प्रदेश) भूस्खलन समाचार अपडेट | किन्नौरी में मलबे में 40 लोगों के फंसे होने के बाद बचाव अभियान शुरू

शिमला26 पहले

लैंडिंग के बाद गलत तरीके से खराब होने के बाद रद्द किए गए थे, तो वे किस प्रकार के रद्द थे।

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर में एक बार फिर से मैदान में है। शिमला-किन्नौर हाईवे-5 पर ज्यूरी रोड के निगोसारी और चौरा के बीच का एक पहाड़ दरक गया। एक बाग़ और बग़ैर। रिपोर्ट्स के मुताबिक, 50-60 से ज्यादा यात्री मलबे में फंस गए हैं, इनमें से 10 लोगों को निकाल लिया गया है। 2 लोगों को भी। दर्जी, पुलिस और एनडीआरएफ की रेस्क्यू में… ITBP को भी रेक्यू के लिए आवश्यक है।

हवा में चलने वाली सड़क पर चलने की, एक बस, एक बार, बोलें और 3 स्थिति पर हों। हिमाचल प्रदेश सरकार ने रेक्यू के लिए कहा है। ने भी अपने मिसाइलों को नष्ट कर लिया। हिमाचल प्रदेश के मीडिया के लिए संबंधित है।

समाचार मोदी ने

किन्नौर में भी
25 को नवंबर में अपडेट किया गया था, जहां अपडेट किया गया था, इसलिए इसे अपडेट किया गया था। इस घटना में 9 पर्यटक की मृत्यु हो गई। दिल्ली में 4 राजस्थान के, 2 छत्तीसगढ़ के और एक-एक महाराष्ट्र और वेस्ट दिल्ली के। आस-पास की बाइक में बैठने के लिए कुल सांगला की ओर कूक बैटर सेरी के पास पुल पर बैठने के लिए प्‍लास टूटा और प्‍लास की तरह भी।

स्थान के लिए रास्ता पूरी तरह से बंद कर दिया गया।

स्थान के लिए रास्ता पूरी तरह से बंद कर दिया गया।

खराब खराब होने वाले हैं।

खराब खराब होने वाले हैं।

स्वस्थ खाने के लिए स्वस्थ रहें।

स्वस्थ खाने के लिए स्वस्थ रहें।

️ कई️️️️️️️️️️

️ कई️️️️️️️️️️

खबरें और भी…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here