छत्तीसगढ़ में कोरोना लाइव: रायपुर में 10 दिन के टोटल लॉकडाउन से पहले जरूरी सामानों की कालाबाजारी शुरू, रेस्तरां में पैर रखने की भी जगह नहीं बची।

0
268


  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • छत्तीसगढ
  • रायपुर
  • रायपुर भिलाई (छत्तीसगढ़) कोरोनावायरस के मामले; लॉकडाउन अपडेट | छत्तीसगढ़ कोरोना मामलों का जिला वार आज का समाचार कोरबा दुर्ग बिलासपुर राजनांदगांव

विज्ञापन से परेशान है? बिना विज्ञापन खबरों के लिए इनस्टॉल करें Newslabz app

रायपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिस्ट

छत्तीसगढ़ में पिछले 24 घंटों में कोरोना के रिकॉर्ड 10,310 नए मामले मिले हैं। 53 लोगों की मौत हुई है। इनमें से 24 लोगों को कोरोना के अलावा दूसरी बीमारियां भी थीं, इसलिए प्रशासन 29 मौतों का कारण ही कोरोना को मान रहा है। बुधवार को 42,289 को विभाजित टेस्ट किए गए थे। नए मरीजों के मिलने के बाद छत्तीसगढ़ में सक्रिय मरीजों की संख्या 58,883 हो गई है। उधर, रायपुर में लॉकडाउन से पहले ही जरूरी सामानों की कालाबाजारी शुरू हो गई है।

9 टीमों की दुकानदारों पर नजर, रेट्रो ज्यादा मिलने पर एक्शन होगा
संक्रमण की बढ़ती अवस्था की वजह से दुर्ग जिले में 6 से 14 अप्रैल तक लॉकडाउन लगा हुआ है। रायपुर में भी शुक्रवार शाम 6 बजे से 10 दिनों के लिए टोटल लॉकडाउन हो जाएगा। इससे पहले ही दुकानदारों ने अचानक जरूरी सामान की दुकानों को बढ़ा दिया। रायपुर कलेक्टर डॉ। एस। भारतीदासन ने कालाबाजारी रोकने के अधिकारियों की 9 टीम बनाई है। इसमें अधिकारियों को चार्ट और दुकानों पर नजर रखने को कहा गया है। यदि कोई भी दुकान में सामान की कीमत ज्यादा मिलती है तो टीम दुकानदारों पर कार्रवाई करेगी। कलेक्टर ने बताया कि टीम शुक्रवार शाम तक जांच कर कार्रवाई करेगी।

कोरोना अपडेट

  • रायपुर जिले में प्रस्तावित लाकडाउन से पहले कुछ क्षेत्रों को विभाजनकारी घोषित किया गया है। नए जोन में रायपुर शहर का चंगोराभाठा, मेट्रो ग्रीन्स सोसाइटी, विरासत अपार्टमेंट, बिरगांव में वार्ड 28 और 33 व अभनपुर का एक गांव परसदा शामिल है। प्रशासन ने इन क्षेत्रों की बाड़ाबंदी कर रहवासियों की आवाजजही पर प्रतिबंध लगा दिया है।
  • रायपुर में लॉकडाउन के दौरान जरूरी होने पर दूसरे जिलों या प्रदेश से बाहर जाने के लिए ई-पास की जरूरत होगी। इसके लिए आज जिला प्रशासन की वेबसाइट पर एक सूची जारी की जाएगी। इसके माध्यम से आवेदन किया जा सकेगा।
  • रायपुर जिला प्रशासन ने पांच सरकारी भवनों में कोरोना मरीजों के लिए आइसोलेशन सेंटर शुरू किया है। आयुष विश्वविद्यालय, होटल प्रबंधन संस्थान, वर्किंग वीमन हॉस्टल और प्रयास के लड़के-बालिका छात्रावासों के अधिग्रहण के बाद 1800 बिस्तर की सुविधा बनाई गई है।
  • प्रशासन ने कोरोना ड्यूटी पर नहीं आने वाले कर्मचारियों पर सख्ती शुरू की है। 54 शिक्षकों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। इनमें से 38 महिलाएं हैं। इन सबसे तीन दिनों में जवाब मांगा गया है।

4 महीने में एक्टिव केस 58 हजार के पार पहुंचे, सबसे ज्यादा दुर्ग में
प्रदेश में अब सक्रिय मरीजों की दर 15 प्रतिशत के पार हो गई है। सितंबर 2020 में कोरोना की पहली लहर पीक पर थी, तब यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 36 हजार थी। अभी प्रदेश में सक्रिय मरीजों की संख्या 58 हजार से अधिक है। यह अब तक सबसे अधिक आंकड़ा है। इस साल की शुरुआत में प्रदेश में 11 हजार सक्रिय मरीज थे। केवल 4 महीने में ही इनकी संख्या 58 हजार के पार पहुंच गई। प्रदेश में सबसे ज्यादा सक्रिय मरीज वर्तमान में दुर्ग जिले में हैं। वहां इनकी संख्या 15 हजार के पार है। प्रदेश में 3 जिले सुकमा, नारायणपुर और बीजापुर को छोड़कर 25 जिलों में सक्रिय रोगियों की संख्या 100 से अधिक है।

लॉकडाउन की घोषणा के बाद रायपुर में विमानों का यह हाल है।  लोगों की भारी भीड़ दुकानों में उमड़ पड़ी है।  इससे संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है।

लॉकडाउन की घोषणा के बाद रायपुर में विमानों का यह हाल है। लोगों की भारी भीड़ दुकानों में उमड़ पड़ी है। इससे संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है।

राजधानी में 3302 मरीज मिले, 27 की मौत
रायपुर में पिछले 24 घंटे में 3,302 नए मिले हैं। 27 लोगों की मौत हुई। अब तक शहर में 1028 जान जा चुकी है। अकेले रायपुर शहर में ही 14,991 सक्रिय मरीज हैं। बुधवार की दोपहर जिला प्रशासन ने लॉकडाउन का एलान कर दिया, इसके बाद शहर के मालवीय रोड, गोल बाजार इलाके में भीड़ देखने को मिली। हर चौराहे पर जाम के हालात थे।

इन शहरों में कोरोना केस ज्यादा
दुर्ग शहर में 1664 नए मरीज मिलने के बाद यहां सक्रिय मरीजों की संख्या 15,297 हो गई है। बुधवार को यहां 6 लोगों की मौत हुई। राजनांदगांव में 873 नए कोरोना क्षमता मिले हैं, 1 शख्स की मौत हुई। राजनांदगांव में 5,423 कोरोना के सक्रिय रोगी हैं। बिलासपुर शहर में 600 नए प्रकार मिलने के बाद इस शहर में सक्रिय रोगियों की संख्या 2,786 हो गई है। बुधवार की स्थिति में यहां 7 लोगों की जान गई। रायगढ़ में 153 नए प्रकार मिले, 2 लोगों की जान गई। बस्तर में 68 नए कोरोनाशय मिले। बस्तर संभाग में सबसे ज्यादा 139 मरीज कांकेर से सामने आए।

खबरें और भी हैं …



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here