HomeWorld Newsछोटे लक्ष्य तय करें, ये आपको खुशी देंगे और लंबे समय तक...

छोटे लक्ष्य तय करें, ये आपको खुशी देंगे और लंबे समय तक काम भी करेंगे अपने मानसिक स्वास्थ्य का त्याग किए बिना महत्वाकांक्षी बनें

Date:

Related stories

विवेक होत्री ने क्या सच-मुच खोला है 17.9 करोड़ का बंगला? डायरेक्टर बोले- ‘बेरोजगार बॉलीवुडियों का संपर्क हूं

मुंबईः बॉलीवुड डायरेक्टर विवेकहोत्री (विवेक अग्निहोत्री) ने अपनी आखिरी...

प्रत्यक्ष6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
- Advertisement -
- Advertisement -

लेखक: जैमी दुचार्मे

- Advertisement -

अगर 8 घंटे की नौकरी में 12-15 घंटे अपरिपक्व लगें, परिवार और मृत्यु के लिए समय न हो, आप अपने शौक भी पूरे न कर पा रहे हैं, तो समझिए आप अति महत्वाकांक्षा का शिकार हो गए हैं। ऐसे लोग पेशेवर सफलता के लिए मानसिक शांति और शारीरिक स्वास्थ्य दोनों खो देते हैं।

अमेरिका में मानसिक स्वास्थ्य पर इसी साल यूएस सर्जन जर्नल की अक्टूबर में आई रिपोर्ट कहती है- अब ज्यादातर अमेरिकियों को लगता है कि पेशेवर सफलता के लिए भागदौड़ से जिंदगी खराब हो रही है। कोरोना महामारी के बाद लोगों में काम के प्रति सोच बदली है। इसलिए कोई भी बड़ा लक्ष्य तय करके उसके पीछे भाग जाते हैं और अपने परिवार को भी बड़ा देते हैं कि जीवन के छोटे छोटे लक्ष्य तय करें। उन्हें हासिल करने का सुख महसूस करें।

क्लिनिकल साइकोलॉजिकल रिचर्ड रेयान कहते हैं, किसी चीज को पाने की महत्वाकांक्षा तब तक ठीक है, जब तक उससे आपकी निजी जिंदगी का दूसरा पहलू प्रभावित नहीं होता। पेशेवर पद की चाह में इतना भागदौड़ करते हैं कि जीवन में अनगिनत अन्य जरूरी चीजें भूल जाते हैं। इससे वे अवसाद का शिकार भी होते हैं।

देखिए दिलचस्पी, मिलने वाला रिवार्ड नहीं

खोज कहते हैं, किसी चीज के लिए मिलने वाला इनाम जैसे कैश रिवार्ड्स उसके लिए आंतरिक प्रेरणा खत्म कर देता है। जैसे साइकिल चलाने के लिए अगर कोई ऐप रिवार्ड दे रहा है और साइकिल चलाना आपका शौक है तो धीरे-धीरे आप इसमें रुचि खोते जाएंगे।

विकास के साथ कल्पना भी होनी चाहिए
टीम जज कहते हैं, जीवन में जिम्मेवार है। आगे बढ़ने की कोशिश करते रहना भी जरूरी है। नई चीजें सीखिए, लेकिन किसी खास काम या सैलरी या जगह पर मान लेने की सोच बदलिए। आपका विकास भी होगा और अनुमान से भी मिलेगा।

आपके परिवार और संबंधों को महत्व दें
यान रे कहते हैं, पेशेवर जीवन की उपलब्धियां भागीदारों के लिए किसी भी संबंध की आवश्यकता होती है। इसलिए परिवार को समय दें। जो दूर हैं, उन्हें फोन करें। उन्हें बताओ कि तुम अपनी फिक्र है। पारिवारिक रिश्ते खराब कर मिले सफलता आपको मानसिक तनाव ही देगा।

प्रमोशन-सैलरी के लिए काम करें
स्टेटमेंट्स हैं कि आप अपना काम पूरा करने पर ध्यान दें, इसके बजाय ये सोचें कि उससे आपको क्या मिलेगा तो आप बहुत कुछ खोज लेंगे। पदोन्नति या वेतन वृद्धि के लिए काम पूरा होने के बाद भी आपको संतुष्टि नहीं मिलेगी।

ध्यान करिए और शुक्रमंदिर रहिए
कई अलग-अलग शोधों से पता चला है कि जो लोग रोज ध्यान देते हैं, उनकी अपनी-अपनी देनदारियां रहती हैं। ऐसे लोग अटकलों के साथ साजिश रचते हैं। हमेशा शुक्रमंदिर रहें।

खबरें और भी हैं…

Source link

- Advertisement -

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here