देवबंद और बरेलवी के 4 स्पेलर्स ने कहा, ‘जैसे कि हिंदु बहिनें दुपट्टे ओढ़ती हैं, फिर भी उड़ाए जाते हैं।

0
68

  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • उतार प्रदेश
  • देवबंद और बरेलवी के चार रिसर्च स्कॉलर्स ने कहा, ‘जैसे हिंदू बहनें दुपट्टा पहनती हैं, वैसे ही मुस्लिम बहनें भी हिजाब पहनेंगी, दुपट्टा भी लेंगी’

एक प्रथम

  • लिंक लिंक

️ इस सामाजिक सामाजिकता को नेबने को कहा है। इस तरह की हरकतें आपके जैसी होंगी। एक-एक करके…

रिसर्च ‘निजी’

देवबंद से इस्‍लामिक डॉ. अलाउद्दीन काशमी में, “कुरान शरीफ के 22वें पारे के सूर्य अहजाब के 59 इनायत में लिखा गया है कि महिला को अपने सिर के बल कर रखना।” कहा, “आजादी के बाद से देश में इस प्रकार की बार-बार बार-बार। आज तक कंपनी ने कंपनी से संपर्क किया। अब व्यक्तिगत रूप से संपर्क में है। ये भारत के समान समाज

डॉक्टर  अलाउद्दीन काशमी एक लहंगा है।  फोन 8 साल तक देवबंद में ली है।

डॉक्टर अलाउद्दीन काशमी एक लहंगा है। फोन 8 साल तक देवबंद में ली है।

डॉलडर 2ः “क्या दुपट्टे भी लगाए”
अली गड़बडी ने कहा, ‘बैठक ने कहा,’ सैयद शाह ने, “हनावा हरि हर धर्म के लोगों का, हो, हो, हो या कुछ होगा। जैसे कि हम्लस हवा में अच्छी तरह से कपड़े पहनती हैं। खराब लगे पर खराब लगे।” सैयद देवबंद से हैं।

सैयद शाहबाज़, अलीगढ़ की सुंदर लड़की

सैयद शाहबाज़, अलीगढ़ की सुंदर लड़की

“विरोधाभिमानी”
देवबंद के उलेमा अपनी असद कासमी ने कहा, “हमारा संविधान संविधान मजहब पर आम्ल की पूरी तरह से है। हमारे मजहब में ऐसा करने से रोकने वाले संविधान के खिलाफ हैं। “उन्होंने कहा,” कर्नाटक के कुछ शरारती लड़कों की करतूत को कुछ लोग यूपी चुनाव में भी भुनाने में लगे हुए हैं। इस प्रकार के प्रभाव लागू होने पर प्रभावित होता है। पोस्ट पोस्ट

देवबंद उलेमा मुफ्ती असद कासमी

देवबंद उलेमा मुफ्ती असद कासमी

लडका डैड 4ः डायल का आबरू का एलर्ट, ऐतराज कैसा

बैरेलवी धर्मगुरु मौलाना शहाबुद्दीन रिज ने, ” कर्नाटक के मंत्र को पत्र में लिखा है। ; होने से कम है

बलवी धर्मगुरु मौलाना शहाबुद्दीन रिजवी।

बलवी धर्मगुरु मौलाना शहाबुद्दीन रिजवी।

खबरें और भी…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here