HomeIndia Newsपीओके पर कार्रवाई को सेना तैयार: उत्तरी सेना के कमांडर बोले- सरकार...

पीओके पर कार्रवाई को सेना तैयार: उत्तरी सेना के कमांडर बोले- सरकार के आदेश का इंतजार; लॉन्चपैड पर 160 मौजूद है

Date:

Related stories

बोरवेल में गिरे बच्चे का बचाव जारी: हाथ में रस्सी बांधकर 12 फीट ऊपर खींचे, फिर वहीं अटका

इशाद हिंदुस्तानी, बैतूल5 मिनट पहलेबैतूल के मांडवी गांव में...

नाबालिग को किस करने की कोशिश, 5 साल की जेल: ड्रेस दिए जाने के बाद छत पर छा गया था

हिंदी समाचारराष्ट्रीयमुंबई में लड़की को जबरदस्ती किस करने की...
  • हिंदी समाचार
  • राष्ट्रीय
  • उत्तरी सेना के कमांडर बोले- सरकार के आदेश का इंतजार; लॉन्चपैड पर मौजूद हैं 160 आतंकी

श्रीनगरएक मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
- Advertisement -
- Advertisement -

उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) पर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने मंगलवार को कहा- भारत सरकार जब सपने में आएगी तो सेना पीओके पर कार्रवाई करने को तैयार है।

- Advertisement -

उन्होंने कहा कि पीओके का विषय संसद में प्रस्ताव पारित हो गया है। भारतीय सेना सरकार के हर आदेश के लिए पूरी तरह से तैयार है। उन्होंने कहा कि, सरकार जब भी सेना को अपनी पूरी तैयारी के साथ आगे बताएगी। उन्होंने यह भी बताया कि भारत में घुसपैठ के लिए लॉन्चपैड पर करीब 160 मौजूद हैं। हम उनके मंसूबे ठिकाने नहीं होने देंगे।

रक्षा मंत्री की रैली में पीओके की मांग उठ रही थी

बता दें कि 3 नवंबर को हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में रक्षा मंत्री परिकल्पना सिंह एक रैली को संदेश दे रहे थे। इसी दौरान भीड़ से लोगों ने कहा- PoK भी अब भारत में चाहिए। इस पर रक्षा मंत्री ने कहा …धैर्य रखिए, गांभीर्य रखिए। विशिष्टता हिमाचल के वीरों को लेकर बात कर रहे थे। इस रैली के दौरान मौजूद लोगों ने पीओके के नारे लगाए।

जम्मू-कश्मीर में काफी बदलाव आया
लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी ने जम्मू-कश्मीर में हो रही टारगेट किलिंग पर बोलते हुए कहा कि राज्य में आतंकवाद को रोकने के लिए काफी काम किया है। जिससे बौखलाए दुश्मनी की तरफ कभी पिस्टल कभी हथियार इस तरह के प्रयास के लिए किए जाते हैं और निहत्थे लोगों को लक्षित किया जाता है। लेकिन अपने मंसूबों में कभी-कभी तय नहीं कर पाएंगे। उन्होंने दावा किया कि धारा 370 के हटने के बाद से जम्मू-कश्मीर में काफी बदलाव आया है। राज्य में आंतकवाद की आग लगी है।

लॉन्चपैड पर लगभग 160 आतंकवादी आतंकवादी हैं
द्विवेदी ने बताया कि, लॉन्चपैड पर लगभग 160 आतंकवादी बैठे हैं जिनमें पीर पंजाल के 130 उत्तर और पीर पंजाल के दक्षिण में 30 हैं। पूरे क्षेत्र में कुल 82 आतंकवादी आतंकवादी और 53 स्थानीय आतंकवादी बैठे हैं। इसके अलावा पाकिस्तान लगातार ब्लॉग्स की तलाश कर रहा है। हाल ही में ही हमने करोड़ों रुपए की ड्रग्स पकड़ी है। यहां तक ​​कि जो हम सीमा पर मार रहे हैं वे भी कहते हैं कि आप स्मगलर मार रहे हो। इसका मतलब साफ है कि पाकिस्तान ड्रग्स बेचने का प्रयास दिन कर रहा है।

35 परसेंट युवा 20 साल की उम्र से कम
द्विवेदी ने कहा कि, 35 परसेंट युवा 20 साल की उम्र से कम कर रहे हैं। 55 प्रतिशत जो 20-30 साल के बीच में युवा बन रहे हैं। ऐसे में हम कोशिश करते हैं कि युवाओं को शिक्षित करके अपनी परवरिश अच्छी करें और सेना भी हर संभव प्रयास कर रही है ताकि युवा रेडिकलाइज ना हो सके।

जम्मू-कश्मीर का हिस्सा PoK है
पीओके यानी पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर भारत का वह हिस्सा है जो पाकिस्तान के साथ लगता है। 1947 में बंटवारे के बाद पाकिस्तान ने फिर से मदद की वजह से जम्मू-कश्मीर के इस हिस्से पर कब्जा कर लिया था।

भारतीय खामियां इस हिस्से को वापस लेने के लिए लड़ रही थी, लेकिन उसी समय भारत के खातेदार जवाहर लाल नेहरू कश्मीर के मुद्दों पर संयुक्त राष्ट्र संघ (यूएन) चले गए। संयुक्त राष्ट्र ने दखल देकर दोनों देशों के बीच युद्ध विराम कर दिया और ‘जो जहां था, उसी समय काबिज हो गया।’

उसी समय से दोनों देशों के फ़ौजें अंतरराष्ट्रीय सरहद की जगह लाइन ऑफ़ कंट्रोल (LoC) के दोनों ओर डीटी हैं। एलओसी पर दोनों मुल्कों के बीच 840 किलोमीटर लंबी सीमा रेखा खींची गई है।

पाकिस्तान ने PoK को दो हिस्सों में बांटा है
पाकिस्तान, पीओके में लौटने के लिए तैयार नहीं है और वह आजाद हो जाएं। मौजूदा समय में पाकिस्तान ने पीओके को गिलगित और बाल्टिस्तान को दो हिस्सों में बांटा है। भारत सरकार समय-समय पर PoK को वापस लेने की बात कह रही है।

2014 में केंद्र में नरेंद्र मोदी की अगुआई में बीजेपी सरकार बनने के बाद यह बहुमत से गरमा गई। मोदी सरकार की ओर से जम्मू-कश्मीर से धारा 370 खत्म होने के बाद PoK को वापस लेने की मांग जोर-शोर से उठ रही है।

कश्मीर में आतंकवाद से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ें…

जम्मू-कश्मीर में जैश का पेज कामरान हो गया

जम्मू-कश्मीर के शोपियों में सुरक्षा बलों ने जैश-ए-मोहम्मद के एक आरोप का प्रहार किया है। सीसीटीवी की पहचान कामरान भाई उर्फ ​​हनीस के रूप में हुई है, जो कुलगाम-शोपियां इलाके में सक्रिय है और इसकी कई घटनाओं में शामिल है। जम्मू-कश्मीर पुलिस के मुताबिक शोपियां कापरेन इलाके में आतंकवाद के साथ निशान लगा रही है। अभी भी कुछ और बीबीसी के पहलू सामने आ रहे हैं, जिसके आधार पर पूरे इलाके में रिकॉर्डिंग की जा रही है और अभियान चलाया जा रहा है। पूरी खबर पढ़ें

जम्मू-कश्मीर में लश्कर का पेज मारा गया​​​​​

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में सुरक्षा बलों और मुठभेड़ों के बीच लश्कर का सज्जाद तंत्र मारा गया। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक सिक्योरिटी सोर्स को रविवार को चेकी डूडू इलाके में कुछ खास होने की सूचना मिली थी। पूरी खबर पढ़ें

खबरें और भी हैं…

Source link

- Advertisement -

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here