HomeIndia Newsपुलिस से गिरगिड़ाई 5 बेटों की बूढ़ी मां, VIDEO: बोलीं-बेटों ने इतना...

पुलिस से गिरगिड़ाई 5 बेटों की बूढ़ी मां, VIDEO: बोलीं-बेटों ने इतना मारा कि नहीं पा रही, 5 करोड़ का मकान कब्जाना चाहते हैं

Date:

Related stories

फिर जहरीली हुई दिल्ली की हवा: रविवार को AQI 400 के पार रहा, कंस्ट्रक्शन पर बैन

हिंदी समाचारराष्ट्रीयदिल्ली AQI 400, वायु गुणवत्ता खराब होने पर...

मेरठ2 घंटे पहले

- Advertisement -

“मेरे बेटों से मुझे बचाओगे। वो मुझे मार डालेंगे। …यह दर्द है 65 साल की एक बूढ़ी मां का। जिसे उसके 4 बेटे और बहुओं ने मिलकर पकड़ कि चल नहीं रही। मां का क सिर्फ इतना इतना कि वो वो आपके बेटों का नाम 5 करोड़ का घर नहीं लिख रहा है।

- Advertisement -

- Advertisement -

शनिवार को वो किसी तरह से घिसटती हुई एसएसपी ऑफिस पहुंच गई। बूढ़ी मां की ये हालत देखकर वहां मौजूद महिला कॉन्स्टेबल ने उनका साथ दिया और एसएसपी रोहित सिंह सजवान के पास चले गए।

महिला पुलिस कर्मियों ने बुजुर्ग महिला को सहयोग दिया और एसएसपी के पास ले गईं।

महिला पुलिस कर्मियों ने बुजुर्ग महिला को सहयोग दिया और एसएसपी के पास ले गईं।

मां ने कहा-बहू-बेटे कहते हैं कि घर हमारे नाम कर दो
बुजुर्ग महिला हज्जन अनीसा कोतवाली इलाके की रहने वाली है। उन्होंने रोते हुए पुलिस को अपना दर्द बताया। कहा, “मेरे शौहर का इंतकाल हो गया है। शौहर ने 5 करोड़ का मकान मेरे नाम किया था। मैं इसमें 5 बेटों के साथ रहता हूं। मेरा सबसे छोटा बेटा मानसिक रूप से बीमार है। उसके अलावा 4 बेटे मेरे मकान में अपना नाम करवाना चाहते हैं। वे लोग मुझ पर हर दिन दबाव डालते हैं और तरह-तरह से प्रताड़ित करते हैं। यह चिल‍िश करीब 4 साल से चल रही है। हर दिन घर में ड्रामा होता है।’

कहा- टाइम से खाना भी नहीं देते
महिला ने कहा, ”मैं मकान उनका नाम नहीं कर रही हूं। इसीलिए मेरे आस-पास के कुछ लोग बोलते हुए भी अनदेखे हैं। इसलिए ही नहीं, गंदी बातें और गाली देते हुए इतना ही नहीं। अब मैं तो बेटों के साथ बहुत से पीटती रहती हैं। वे मकान को लेकर ताना मारती हैं। खाना भी टाइम नहीं देते। मैं पहले ही बीमार चल रहा हूं। मेरी रीढ़ की हड्डी में परेशानी है। ऐसे में टाइम से खाना न मिलने पर मेरी तबीयत बिगडती जा रही है।”

  • मां का दर्द आगे पढ़ने से पहले आप हमारे पोल में हिस्सा ले सकते हैं।

कहा-बेटे आत्महत्या करने की धमकी देते हैं

पुलिस के सामने बुजुर्ग महिला कभी रो रही थी तो कभी गुस्सा हो रही थी। थोड़ा शांत होने पर वह बताती है, ”मकान नाम न लेटर पर बेटे अलग-अलग तरीके से धमकाते हैं। एक बार बड़ा बेटा घर छोड़कर किराए के मकान में रहने लगा। उसने समाज में मेरी निंदा करना शुरू कर दिया। इसके बाद लोग और रिश्ता जताने लगे कि जिसका अपना इतना बड़ा मकान है, उसका लड़का किराए पर रहता है। इसलिए मैं उसे मना कर घर वापस ले आई।”

हज्जन अनीसा बताती हैं, ”एक बार तो एक बेटे ने अपनी पत्नी पर कथित तौर पर नोटिस की धमकी दी। वह कहता है कि बहू को दिखाई देगा इल्जाम पर मुझे जेल कर दो। इसलिए मकान उनके नाम कर दूं। इन बेटों ने मेरा जीना मुश्किल कर दिया है। ये मुझे चैन से जंगल नहीं दे रहे हैं।”

बूढ़ी महिला रो-रोकर बोलती है- मुझे बचाओ संघ।  मुझे मार डालो।

बूढ़ी महिला रो-रोकर बोलती है- मुझे बचाओ संघ। मुझे मार डालो।

बोली- डंडों और लात-घुसों से डाउनलोड किया गया
उन्होंने बताया, ”गुरुवार को मैं घर पर बैठी हूं। चारों बेटे और बहुत-सी चीज़ें भी घर में थीं। इतने में बड़े बेटे ने घर की बात उठाई। इस पर मैंने उनसे कहा कि वे लोग हर महीने मुझे 5 हजार रुपये रहने दें, तो उनका नाम मकान में लिख दूं। लेकिन मेरा कोई भी बेटा मुझे रहने देने को राजी नहीं हुआ। इसके बाद मेरे बेटे ओर बहुओं ने मिलकर डंडों और लात-घूसों से जमकर मार्केटिंग की। वे लोग कहते हैं कि घर हमारे नाम कर दे, नहीं तो मारेगा। घर से निकालें।”

बुजुर्ग महिला को महिला पुलिस कर्मियों ने पानी पिलाया।

बुजुर्ग महिला को महिला पुलिस कर्मियों ने पानी पिलाया।

एसएसपी बोले- फर्जी के खिलाफ कार्रवाई होगी
पीड़ित बुजुर्ग महिला की आपबीती सुनने के बाद एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने उसे न्याय की गारंटी दी। उन्होंने थाना कोतवाली को तुरंत मामले की जांच कर कार्रवाई करने का आदेश दिया। कहा कि फाइलों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं…

Source link

- Advertisement -

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here