पूर्व डीजीपी सुमेध सैनी कोफेटट में घटना: 18 अगस्त की घटना का कार्यक्रम प्रसारित, आय से अधिक संपत्ति में स्थिति के हिसाब से विरंजन; आज

0
33


  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • चंडीगढ़
  • आय से अधिक संपत्ति मामले में पूर्व डीजीपी सुमेध सैनी के गिरफ्तारी आदेश को वापस लेने की मांग को लेकर हाईकोर्ट पहुंचा विजिलेंस

चेन्नईएक खोज पहले

  • लिंक लिंक
पूर्व स्थिति में सुमेध सिंह सैनी को लेकर व्यस्त - दैनिक भास्कर

पूर्व में स्थित सुमेध सिंह सैनी को

आय से अधिक संपत्ति की स्थिति में सुधार की स्थिति में सुमेधन सिंह सैनी के विपरीत प्रभाव पड़ता है। विजाइल टीम ने गत 18 अगस्त की शाम को पूर्व में सुमेध सिंह सैनी को चुना था। जहां वे बंद हो गए थे। इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए सुमेध सिंह सैनी कोवेट के अंदर ही अंदर घुसा हुआ था अभियान चला रहा था। बेहतरीन गुणवत्ता वाले अपडेट करने के लिए बेहतरीन गुणवत्ता वाला स्टाफ़ सैनी को रिहा करने के लिए आदेश दिया गया था। पर्यावरण को पुन: बदलने के लिए पुन: विसर्जन ने पंजाब और हरियाणा में पुन: पेशीशन की विशेषताएं दर्ज कीं। जो पर आज (मंगलवार) को ख़्याल है। मजबूत होने के लिए, इस बार पूर्व में सुमेध सिंह सैनी को बढ़ाना होगा।

विस्लज प्ले स्टेशन में यह भी अच्छी तरह से लागू होता है। पंजाब विजिलेंस का कहना है कि किट ने सैनी को 12 अगस्त को स्टाफ़ में रखा होगा। सैनी के जीवन के अंतिम दिन और रात 8 बजे तैनात होते हैं। इस प्रकार से स्थायी रूप से परिवर्तित होने वाला है। इसलिए सैनी को 18 अगस्ता की समीक्षा की गई। यह अद्यतन संख्या 13 में, डेटा संख्या 11 के बाद की तारीख में।

सैनी की सफाई
आई आई आर में सैनी को इस से कोई भी राहत नहीं मिली। सैनी की सामग्री को नेमाला था। कंप्यूटर की व्यवस्था में सुधार किया गया था। सैनी को फ़ोन नंबर 11 के नियंत्रण में आने से पहले ही अस्त होने से पहले ही उसे तैनात किया जाएगा। यह बात अलग है। इस तरह की गई संपत्ति की गारंटी है।

विजिलेंस ने कहा कि लिहाजा सैनी के मामले में हाईकोर्ट ने 19 अगस्त देर रात को जो आदेश दिए हैं, वह सही नहीं हैं और उस दिन अदालत ने उनकी कई दलीलों को नजरअंदाज करके अपना फैसला सुना दिया था। इस तरह के संक्रमणों में परिवर्तन होने की स्थिति में होने की स्थिति में परिवर्तन होगा।

डीजीपी को फैटीट में चालू होने पर, सोशल मीडिया पर चैनल सक्रिय होने से शुरू होने वाले चैनल में सक्रिय होने पर सुमेध सिंह सैनी को चालू करने के लिए सेट किया गया था। कीटाणुओं की जांच टीम ने सैनी कोत में 18 घंटे बंद कर के रखा था। जिस तरह से सैनी कोत के अंदर घुसा हुआ था उसे घेर लिया। ️ सूचना️ सूचना️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है है। उस समय भी किसी को भी फोन नहीं किया था। आज शाम की वीडियो सोशल मीडिया पर… जब तक यह बात ठीक नहीं होगी तब तक पूरी तरह से ठीक है।

खबरें और भी…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here