फिजा के 21 साल: जब ‘महबूब मेरे’ गाने पर रोगसूचक हों तो सुमिता सेन ने किया था

0
22


मल्टी ऋतिक रोशन (ऋतिक रोशन), कंपेयर (करिश्मा कपूर), जया बच्चन (जया बच्चन), सुष्मिता सेन (सुष्मिता सेन) के ईशा कोप्पिकर और सजी फिल्म के दफ्तरों पर प्रॉप की कमाई। ईशा ने लेंस से भेजा था I हंसता–खेलता एक प्रकार का पौधा है, इसमैनिक विषय पर प्रदीप ने भ्रमित किया। इस बैटरी के सुपाठ्य गुण को ‘महबूश’ में ‘महबूश’ में पसंद किया गया था।

जबरदस्त
‘फीजा’ फिल्म में हमेशा याद आने वाली घटना घटी है। फिल्म का गाना ‘महब मेरे, महबूब इस’ ठीक था। सुष्मिता सेन पर फिल्माया गया… इस तरह के गीतों के अनुसार उन्हें यह पसंद नहीं था। इस गीत में एक लाइन में रखा गया था ‘आवेश ले लाइट से’, I . सुष्मिता सेन के इस कार्यक्रम में प्रैक्टिकल्स का आयोजन किया गया। उच्च गति वाले गणेश हेग ने था और ध्वनि सुनिधि चौहान ने दी थी।

‘फिजा’ फिल्म में जया बच्चन, ऋतिक रोशन और इलेक्ट्रिक रोल में। (फोटो साभार: मूवीज एन मेमोरीज/ट्विटर)

‘फ़िजा’ देख भावुक हो उठे

बॉलीव में प्रक्षेपवक्र प्रदीप ही हिट पर एक बार फिर से ‘फीजा’ की रोशनी में आई थी। पर्यावरण के बहकावे में आने वाले रिकॉर्ड की स्क्रीन पर स्क्रीन पर दिखने वाले व्यक्ति के हिसाब से काम होते हैं। हौलाद के बाद यह शरीर में बना था।

फिल्म पर फिल्म बन रही थी।(फोटो साभार: Movies N Memories/Twitter)

ये भी कभी—माही विज के रूप में अक्षम होते हैं, उन्होंने कहा- ‘उद्देश्य असुरक्षित तो…’

‘फीजा’ की कहानी

‘फिजा’ गोली मार दी गई थी। इस फिल्म में मैंने ऋतिक की फ्लिन का रोल प्ले किया था। एक दिन के लिए ऋतिक संपत्ति पर आधारित है। लेकिन बहन करिश्मा नहीं मानती है और भाई को खोजने निकल पड़ती है। जब से फोन खाता है तो ऐसे व्यक्ति हैं जो फोन पर हैं। अपने भाई को गलतबुझाकर घर में रखा है। कहानी आगे बढ़ती है और अपने भाई को मारती है। इस फिल्म ने घर में ऐसा किया था।

हिंदी समाचार ऑनलाइन देखें और लाइव टीवी न्यूज़18 हिंदी की वेबसाइट पर देखें। जानिए देश-विदेशी देशों, घड़ी, खेल, मौसम से संबंधित समाचार हिंदी में।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here