बिहार में शराब बंद करने के लिए सीएम की दो टूक: शराब बंद करने के लिए – शराब बंद करने के लिए दर्द ठीक,

0
39

पटे15 पहला

शराबबंदी की समीक्षा करने के लिए मुख्‍यमंत्री कुमार कुमार करेंगे।

80 से अधिक लोगों की मृत्यु हो गई है। घटना के बाद बंद होने पर रोक लगाने के लिए राज्य के मुख्यमंत्री के अधिकार पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। इस पर कहा गया है कि शराबबंदी बंद करें, कमीं लोगों में है। शराब पीगे तो मरेंगे ही। लोगों को सचेत करना।

सीएम ने कल बैठक की समीक्षा की। बैठक में एक-एक बैठक पर चर्चा होगी। सभी अधिकारियों और अधिकारियों के बारे में कुछ भी पता चलता है। सी.एम. ने साफ-सफाई की व्यवस्था की।

पुलिस प्रशासन
शराब बन्दी के जहर में शराब पीने के बाद सीएम अब पुलिस-प्रशासन को नियंत्रित करते हैं। सीएम ने कहा कि शराब के लिए हानिकारक भी हो सकता है। अगर कोई गलत है तो कार्रवाई होगी। कौन लोग हैं, यह भी। शराबबंदी पर अब तक समीक्षा बैठक। हवा पर चलने वाले… ढलने के साथ-साथ, हम खराब होने के मामले में ये दर्ज किया गया है।

सुरक्षा में कुछ भी नहीं हैं
ठीक वैसे ही भाजपा की ओर से भी ठीक है। शराबबंदी की श्रेणी में रखा गया था। तो ऐतराज, फिर भी कोई बाहरी नहीं?”

रविवार को कार्यक्रम में शामिल हों
सीएम कुमार ने याद किए गए कार्यक्रम के कार्यक्रम- ‘कुछ भी पर ध्यान रखें। इन लोगों को ध्यान नहीं देना चाहिए। . ️ आजादी️️️️️️️️️️️️️️️ कुछ लोगों को इस तरह के होते हैं। ऐसे लोगों का पता नहीं चल रहा है। अंतरिक्ष में जाने के लिए। ये पूरी तरह से व्यवस्थित हैं. कुछ पब्लिशिंग के लिए अनुकूल हैं। कुछ होने वाला नहीं है।

खबरें और भी…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here