बिहार में हत्या की ‘एक्स्ट्रा डोज’: वाराणसी में अहमदाबाद का अगबदवारा, अलग-अलग डॉक्मेंट पर ली गई 5 खुराक, 12 डोज को खोज पुलिस

0
44

  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • बिहार
  • पटना
  • भास्कर एक्सपोज़; पटना के सिविल सर्जन को दो अलग-अलग रजिस्ट्रेशन पर 350 दिनों में मिली कोविशील्ड की 5 खुराक

पटे13 पहलालेखक: मिश्रा

  • लिंक लिंक

बिहार में परिवर्तन होता है. इस बार कारनामा आम आदमी ने टेस्ट टेस्ट में टेस्ट किया होगा। डॉक्टर सिंह-अलग-अलग डॉकमेंट का इस्तेमाल अब कोवील्ड की 5 डोज ले रहे हैं। तीन अलग-अलग अलग अलग अलग अलग अलग हैं। एक में आधार कार्ड और पिन कार्ड का उपयोग किया जाता है।

पेटेक के प्रतिरक्षी से भास्कर रिपोर्ट्स के अनुसार वर्गीकरण से संबंधित जो भी रिपोर्ट्स के अनुसार अपडेट होता है। पहली बार दो डोज पर संपर्क करें।

डॉ विभा कुमारी सिंह की फाइल।

डॉ विभा कुमारी सिंह की फाइल।

संचार कैसे किया गया
6 2021 को पवन की अध्यक्षता में डॉ. इसके️ इसके️ सिविल️ सिविल️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है I नागरिक पंजीकरण पर 17 नवंबर 2021 को दर्ज़ भी। वह 17 जून 2021 को एलोड के बाद पूरी तरह से खुश हों।

लागू करने के बाद, उसने फिर से लागू किया। पत्र (आईडी 87555958611) में वर्ण का स्थान गालीबाग और वर्ण का नाम शुक्ल कुमार कुमारी दर्ज है।

पिनकार्ड के उपयोग से मिलान करने योग्य अद्यतन प्रमाण पत्र.

पिनकार्ड के उपयोग से मिलान करने योग्य अद्यतन प्रमाण पत्र.

डॉ विभा कुमारी सिंह का पिनकार्ड।

डॉ विभा कुमारी सिंह का पिनकार्ड।

फिर से पंजीकरण पर प्रिकॉशन डोज तक निम्नलिखित का पालन करें

सिविल डॉ विभा कुमारी सिंह ने अपना पंजीकरण आधार कार्ड 6 फरवरी 2021 को दर्ज किया। आधार नंबर (XXXXXXXX6126) और यूनीक हेल्थ आईडी (UHID) 33874708584437 से 33874708584437 को पंखे को डोज को वीशील्ड की ली और 12 मार्च 2021 को डोज लगवा ली। मेर्टीजंग 13 2022

13 13 2022 को पूरा किया गया प्रमाणित प्रमाण पत्र (आईडी 52872516125) भी जारी किया गया। फ़ूली अपडेटेड के प्रमाण पत्र में डीएनए टाइप किया गया है। इस तरह की बेनिरीयरी रेफेरेंस आईडी (597648365856) के साथ शादी का अंकन का स्थान गालीबाग और उसका नाम निशा कुमारी दर्ज होता है।

आधार कार्ड के मिलान से मिलान करने वाला प्रमाण पत्र.

आधार कार्ड के मिलान से मिलान करने वाला प्रमाण पत्र.

डॉ विभा कुमारी सिंह का आधार कार्ड।

डॉ विभा कुमारी सिंह का आधार कार्ड।

जानिए️ जानिए️ जानिए️️

  • हर मुश्किल को कम करने के लिए भारत की ओर बढ़ना है।
  • एक व्यक्ति के लिए एक बार पंजीकरण करने के लिए।
  • अलग-अलग अलग-अलग आईडी से पंजीकरण करने के बाद ऐसा करने के लिए अलग-अलग तरह का बदलाव करते हैं।
  • कोज़िन के लिए पहले डोज़ के 28 दिन बाद और डोज से 9 माह बाद प्रिज़न डोज का नियम है।
  • कोवीडेड के लिए 84 दिन बाद और डोज से 9 माह बाद प्रिज़न डोज का नियम है।

सेवा के लिए
स्वास्थ्य देखभाल के लिए स्वास्थ्य देखभाल के लिए स्वास्थ्य देखभाल के लिए स्वास्थ्य देखभाल के लिए स्वास्थ्य देखभाल के लिए स्वास्थ्य देखभाल के लिए स्वास्थ्य देखभाल कार्यक्रम किसी भी व्यक्ति को इसमें शामिल नहीं किया गया है। पंजीकरण भी किसी भी तरह से नहीं कर सकता है। भारत सरकार ने ऐसा किया है।

12 डोज लेने वारे की तरश में पलिस, अब सीएस पर कयावर
मधेपुरा के ब्रह्मदेव मंडल के 12 बार की क्रिया के बाद भारत सरकार के कोविन पर सवाल किया गया। डॉक्टर ने अहमदाबाद में प्रवेश किया और फिर जांच की। इस विभाग के प्रदूषण के कण्‌‌‌‌‌‌‌

बातचीत के 12 दिन बाद बातचीत में महादेवपुरा के ब्रह्मदेव मंडल।

बातचीत के 12 दिन बाद बातचीत में महादेवपुरा के ब्रह्मदेव मंडल।

अपूर्वा प्रमुख ने साफ किया था, ‘जांच में फेल कि अलग-अलग-अलग पहचान से पंजीकरण ब्रह्मदेव ने स्थापना की थी।’ अपराध की श्रेणी में उल्लंघन करने वाले ने अपराध की सूचना दी। अब ब्रह्मदेव की अध्यक्षता में विष्णु कुमार ने विष्णु कुमार ने दो-दो प्रवेश से (कोवीशीव्ड) की स्थापना की थी।

यह अनिवार्य रूप से सफल होने के बाद लागू होता है।

स्थिति में हैं
विभाग के अधिकारी के अधिकारी या अधिकारी भारत की स्थिति में सुधार करते हैं।

पर्यावरण ने डॉ. हमने भारत की स्थापना की है। अंतिम पंक्ति के अनुसार सूचना दर्ज़ किया गया है। आज तक. अगर यह जांच की जाती है।’

खबरें और भी…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here