भार विशेष: गर्भ में जन्म के बाद जन्म देने वाला गर्भ में जन्म होता है।

0
36

  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • एमपी
  • भोपाल
  • विदिशा
  • जिन बेटियों को कचरे में फेंका गया, उनमें से एक अमेरिका में ओलंपिक की तैयारी कर रही है, दूसरी मां कनाडा में डॉक्टर बनना चाहती है।

विदिशा11 पहलीलेखक: गिरिजाशंकर तिवारी

  • लिंक लिंक
संचार- माता-पिता ने बच्चे को जन्म देने के लिए वर्गीकृत किया, गणपति ने परिवार को जन्म दिया।  - दैनिक भास्कर

संचार- माता-पिता ने बच्चे को जन्म देने के लिए वर्गीकृत किया, गणपति ने परिवार को जन्म दिया।

जन्म के बाद जन्म के समय जन्म के बाद जन्म के बाद जन्म के बाद जन्म के बाद ही मृत्यु हो जाती है। विदिशा में बदलने की स्थिति में हैं और अब वे अमेरिका में हैं, और नियमित रूप से संशोधित हैं परीक्षा कर रहे हैं। चार्ज करने वालों की सुरक्षा करने वालों ने शुल्क लगाया है।

जन्म के बाद जन्म के 7 दिन बाद सुमन की मृत्यु हुई
माता-पिता के जन्म के 7 दिन बाद उनका जन्म हुआ। स्वास्थ्य व्यवस्था और विदिशा के शिशु गृह में दर्ज किया गया। मौसम के बारे में पता नहीं चलता है। शिशु गृह में सुमन नाम दिया गया।

एम.आई.बैंगर में कीटाणु रक्षा दल में तैनात किए गए थे। नवंबर 2017 में वे सुमन को अपने साथ थे। सुमन अभी तक तैयारी कर रहा है। साथ ही साथ सिखें।

विज्ञान में 15 दिन की अवधि के लिए

राधा

राधा

परिवार में 15 दिन तक रहते थे। विदिशा रोड शिशु गृह के प्रबंधन के लिए दीपक बैरागी ने पेशी के लिए संचार के माध्यम से 13 अक्टूबर 2017 को आई। कैनेडा के नेवाड़ की योजना बनाने वाले भारतीय मूल के उत्पाद की योजना बनायीं और कनाडा के मूल उत्पाद के वैविंषिक योजना के जैसा था। पिता मां का सपना है कि ये लाली डॉक्टर बने। इसलिए अभी तक तैयार नहीं हैं।

खबरें और भी…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here