HomeTechnology Newsमस्क ने कहा- रॉक सॉलिड अनहोनी सर्विस, फेक अकाउंट बढ़ने के कारण...

मस्क ने कहा- रॉक सॉलिड अनहोनी सर्विस, फेक अकाउंट बढ़ने के कारण बंद कर दिया था सब्सक्रिप्शन | ट्विटर का ब्लू चेक सब्सक्रिप्शन 29 नवंबर को फिर से लॉन्च होगा | एलोन मस्क

Date:

Related stories

चॉकलेट खाने से 8 साल के बच्चे की मौत: ऑस्ट्रेलिया से चॉकलेट लाया था पिता; गले में फंसने से दमघूटा

हिंदी समाचारराष्ट्रीयतेलंगाना माइनर डेथ; वारंगल में चॉकलेट खाने...

सैन फ्रांसिस्को2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
- Advertisement -
- Advertisement -

ट्विटर की ब्लू सब्सक्रिप्शन सेवा 29 नवंबर को दोबारा जारी की जाएगी। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के नए बॉस एलन मस्क ने इसकी घोषणा की है। मस्क ने कहा, यह सुनिश्चित करने के लिए कि यह रॉक सॉलिड है, 29 नवंबर को ब्लू वेरिफ़िकेशन को रिलीज़ किया जा रहा है। इससे पहले एलन मस्क ने कहा था कि इस सप्ताह के अंत तक इस सेवा को जारी किया जाएगा।

- Advertisement -

ब्लू चेक मार्क पहले राजनेता, प्रसिद्ध सनकी, सनकी और अन्य सार्वजनिक दिन के सत्यापन के लिए खाता आरक्षित था। अब इसे ब्लू सबस्क्रिप्शन सर्विस में जोड़ा गया है। कोई भी व्यक्ति अपना ब्लू चेक मार्क नहीं ले पाएगा। हाल ही में इस सेवा को कुछ देशों में 8 डॉलर प्रति माह की लागत पर लॉन्च किया गया था, लेकिन नकली खाता बढ़ने के कारण इसे रोक दिया गया।

ब्लू सर्विस से बढ़ने लगे थे फेक अकाउंट्स
पेड वेरिफिकेशन फीचर के रोल आउट होते हुए ट्विटर पर अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ही चुने हुए कई फर्जी खाते सामने आए। कई ऑब्जिट के भी फेक अकाउंट बनाए गए जिसका प्रभाव उस कंपनी के शेयर पर पड़ा। कुछ ने गेमिंग विवरण ‘सुपर मारियो’ और बेसबॉल खिलाड़ी लेब्रोन जेम्स का भी खाता खाता बनाया था।

भारत को चुकाना पड़ सकता है 719 रुपए
भारत में कुछ रेडियो यूजर्स 10 नवंबर की रात ब्लू सब्सक्रिप्शन के लिए एपल ऐप स्टोर पर पॉप-अप मिला। इसमें ट्विटर ब्लू सब्सक्रिप्शन की मासिक कीमत 719 रुपए निर्धारित की गई है। हालांकि, कीमत अभी भी आधिकारिक तौर पर सामने नहीं आई है।

सब्सक्रिप्शन मोड पर ले जाने की 3 वजहें
1. कंपनी को रोजाना 32 करोड़ का नुकसान हो रहा है। वो नए मॉडल से रेवेन्यू बढ़ाना चाहते हैं।
2. मस्क ने ट्विटर को 44 डॉलर में पिया है। वो जल्द शुरू करना चाहते हैं।
3. ट्विटर पर भारी कर्ज है। वो इसे समाप्त करने के लिए एडवर्टाइजर्स पर स्थायी नहीं रहना चाहते।

खबरें और भी हैं…

Source link

- Advertisement -

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here