महंत नारायण के सुलेख के 11 पन्ने: लिखा हुआ- 13 खुद को स्वयं को प्रकट था, परमर्य; गर्ल के साथ फोटो खिंचवाने वाला अज्ञात व्यक्ति आनंदमय

0
14


प्रयागराज/लखनऊएक खोज पहले

अखिल अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष और निरंजनी अखाड़ा के मालिक महंत भारतीय नारेंद्र (70) की हत्या होती है। इस बीच महंत नारेंर गिरी 11 में लिखा गया सुप्रसिद्ध नोट भास्कर के प्रबंध निदेशक। जिसमें उन्होंने आनंद गिरि, आद्या प्रसाद तिवारी और उनके बेटे संदीप तिवारी का तीन बार जिक्र किया और पूरे होश में उन्हें अपनी आत्महत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया है।

ये भी लिखा गया था कि एक महिला से चलने वाले अभियान कार्यक्रम में चलने का कार्यक्रम प्रसारित हो रहा था। इस कदम की दिशा में इशारा किया गया है। इसके साथ ही अपने प्रिय मित्रों के नाम भी हैं।

महंत का सही ढंग से मिलान किया गया…

पहले पन्ना..

मैं महंत गिरी। मिहनुमान जी विशाल मंदिर (लेट हनुमानजी) स्थायी भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष भारतीय अखाड़ा परिषद के सदस्य हैं। में जी। जब भी मैं खुश रहूंगा। आनंद गिरी, आद्या प्रसाद तिवारी और मुझे मेरी जान से लड़ने वाली मिसाइल।

२१ पन्ना..

सोशल मीडिया, फ़ैज़ी समाचार और समाचार में आनंददायी गिरी ने मेरे फीचर के लिए मनगढ़ंत ज़बरदस्ती। मैं खुश हूं। मेरा घर से कोई भी संबंध नहीं है। एक भी पैसा घर नहीं। एक-एक एवं और मिठौरी में गलतिया। 2004 में मैं महंत बना। 2004 से पहले मि.

️ मेरी और नाम की नामधारी व्यक्ति। मैं आहत हूँ। मैं आत्मरक्षा कर रहा हूँ। भार्य की पूरी जिम्मेदारी आनंद गिरी, आद्या प्रसाद तिवारी, जो मंदिर में पेसर, आद्या प्रसाद तिवारी का संजय तिवारी करेंगे। मैं समाज में हमेशा शान से जिया, आनंद गिरी गलत से नामुमकिन।

मौसम पन्ना..

मैं महेन्द्र गिरी। आज मेरा मन आनंद गिरी की घटना हुई। कंप्यूटर के मीडिया से एक गर्ल के साथ मेरी फोटो काम में नामी काम किया जाता है। जब यह सम्मान से जी जाएगा, तो यह कैसा होगा. …

धू पन्ना..

मैं महेन्द्र गिरी। ️ वैसे️ वैसे️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है है ️ सोशल मीडिया से संचार करने वाले कि एक-दो दिन में कैमरे के कैमरे से मोबाइल या महिला के काम में प्रवेश करने के लिए। (कॉथ-कक साफ-सफाई।) एक बार ख्यातिप्राप्त। मैं जो पद पर हूँ।

पांचवां पन्ना..

आज मैं आत्मदाह कर रहा हूँ, अनवक्त भार गिरही, आद्या प्रसाद तिवारी जो टायर व बैटरी निकालेंगे और सैन ऑफ आद्या प्रसाद तिवारी की होंगे। मैं खुद ही बचाव कर रहा था। एक अजीबोगरीब आँवला गिरी हुई थी, मेरी नामी नाम की व्यक्ति। आज मैं मरा हूं और आत्मिक हूं। 25 लाख अदित मि. मि.

छठवां और सातवां पेजा..

बार-बार नाम रखने के बाद भी नाम नाम वाले। मेरी हत्या का गैर-जिम्मेदारी गिरी, आद्या प्रसाद तिवारी, संदिव तिवारी सन ऑफ आद्या प्रसाद तिवारी। प्रयागराज के सभी पुलिस अधिकारी अधिकारी अधिकारी अधिकारी अधिकारी अधिकारी अधिकारी खुद अधिकारी अधिकारी होते हैं। मैं आपकी शांति।

आठवां पन्ना..

प्रिय बलवीर गिरी ओम् नमो नारायण। मैं आपके एक नाम का हूं। मेरे ब्रह्मलीन (मरने के बाद) हो जाने के बाद और मिठौर मिठौरी गड्डी का महंत बन्हो। मेरा एक अनुरोध है कि मेरी सेवा में शिकायतकर्ता जैसे मिथलेश हिंदू, राम कृष्ण हिंदू, विवेक कुमार मिश्रा, अभिषेक कुमार मिश्रा, उव द्वैवेदी, प्रज्ज्वल द्विवेदी, अभय द्विवेदी, द्वैत तिवारी, सुमित तिवारी का जल। इस प्रकार से वे बार बार होते हैं। इन सभी का ध्यान दें।

नौवाँ पन्ना..

. वैसे हमें सभी विद्यार्थी प्रिय हैं, लेकिन मनीष शुक्ला, शिवेक मिश्रा, अभिषेक मिश्रा मेरे अति सप्रिय हैं। मेरी सेवा सुमित ने की थी। मंदिर में मलिक-फूल की दुकान मिथलेश हिंद पर मिथलेश को बड़े हनुमान की इमपोह की दुकान में मिथलेश की दूकान लगाती है। शक्ति, शिवेक मिश्रा, अभिषेक को दुकान एक लड्डू की दुकान में दी है।

दसवाँ पन्ना..

बलवीर मेरी समाधि पार्क में लीं के पेड़ के पास 45. मेरी आखिरी इच्छा है। धनंजय कीटाणु की तरह! बलवीर गिरी और ईश्वर के शरीर में प्रवेश करने के लिए मेरी समाधि पार्क में लिनेन के पास डाइव्स होते हैं।

द्र्वाण्वा पन्ना..

प्रिय बलवीर गिरी, मिठौर-मंदिर की कोशिश करने की कोशिश। जिस प्रकार से टाइप किया गया है, उसी प्रकार से टाइप किया गया है। आसुतोष गिरि और नीतेश गिरि और मरी के आकार बलवीर गिरि का सहायक। परम पूज्य महंत हरि गोविंदा एव (एक नाम मजबूत बनाने वाला) बलबीर गिरि को मरी का महंत बनाना। रवींद्र पुरी जी महंत हमेशा के साथ। मेरे मेरे बाद के बलवीर गिरि का ध्याना। सभी को मेरा ओम नमो:।

… ये प्रश्न भी अहम

काशी सुमेरु पीठाधीश्वर नंद सरस्वती ने इसे इस तरह से तैयार किया है। यह भी सुरक्षित है। महात्मा गांधी। वे न ही लिखा गया है। वे बोल रहे हैं। मेरे पास प्रमाणक भी है। प्रेग्नेंट होने की वजह से वह खराब हो गया था।

खबरें और भी…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here