HomeSports Newsमहिलाओं के लिए सख्त इस्लामिक ड्रेस कोड के खिलाफ राष्ट्रीय टीम |...

महिलाओं के लिए सख्त इस्लामिक ड्रेस कोड के खिलाफ राष्ट्रीय टीम | इंग्लैंड बनाम ईरान मैच हिजाब प्रोटेस्ट वीडियो; फीफा विश्व कप कतर

Date:

Related stories

दोहा3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
- Advertisement -
- Advertisement -

कतर में चल रहे फुटबॉल वर्ल्ड कप में सोमवार शाम ईरानी टीम ने जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया। टीम के सभी खिलाड़ी राष्ट्रगान के दौरान मौन रहे। जबकि इंग्लिश प्लेयर्स ने गर्व के साथ अपना राष्ट्रगान गाया।

- Advertisement -

यह वाकया व्यू इंग्लैंड-ईरान जापान से पहले मिला था। जब दोनों देशों के राष्ट्रीय एंथम रोज़गार कर रहे थे।

विशेष रूप से ईरानी खिलाड़ी अपने देश में सख्त इस्लामिक ड्रेस कोड का विरोध कर रहे थे। वहां देश भर में प्रदर्शन चल रहा है। ऐसे में टीम ने उस प्रदर्शन का समर्थन किया। इस खबर में जाने वाला पूरा मामला… लेकिन उससे पहले हमारे इस पोल में अपनी राय दें

फैंस भी प्लेयर्स का सपोर्ट करते नजर आए।

फैंस भी प्लेयर्स का सपोर्ट करते नजर आए।

विरोध प्रदर्शन क्यों…?
वहां की महिलाओं के लिए इस्लामिक ड्रेस कोड काफी सख्त हैं। ईरान के कानून के मुताबिक, महिलाओं के लिए घर से बाहर सोते हुए सिर को हिजाब या खोलने से भरना जरूरी है। उल्लंघन करने पर कड़े दंड के प्रावधान हैं।

फीफा का मंच क्यों चुना गया?
ईरानी सरकार इस प्रदर्शन को दबाना चाहती है। हजारों गिरफ्तारियां हो चुकी हैं, सैकड़ों लोगों की मौत हो चुकी है। यही कारण है कि टीम ने फुटबॉल विश्व कप के मंच पर अपनी सरकार का विरोध प्रदर्शन किया।

इतना बवाल क्यों है?
विरोध प्रदर्शन महसा अमिनी की मौत के बाद शुरू हो रहे हैं। 22 साल अमनी को 13 सितंबर को मोरेलाइट पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उन पर हिजाब ने चेतावनी के उल्लंघन का आरोप लगाया था। हिरासत में ही अमीनी की मौत हो गई।

फ्रैन्डली मैच में देश के सिंबल को काली जैकेट से लपेटा गया था
ईरानी खिलाड़ी पहले भी प्रदर्शनों का समर्थन कर चुके हैं। एक दोस्ताना मैच के दौरान खिलाड़ियों ने देश के सिंबल को काली जैकेट के साथ कवर करके विरोध प्रदर्शन किया। जबकि कुछ ने गोल दागने पर जश्न नहीं मनाया। फुटबॉल के अलावा अन्य खेलों के खिलाड़ियों ने राष्ट्रगान गाने से इनकार कर दिया था।

टीम ने देश के सिंबल को काली जैकेट से छिपाया।

टीम ने देश के सिंबल को काली जैकेट से छिपाया।

खबरें और भी हैं…

Source link

- Advertisement -

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here