9.9 C
London
Saturday, March 18, 2023
HomeIndia Newsयंग लॉरेंस का दूसरा इंटरव्यू: जेल मंत्री के रिश्तेदारों से सीधे तौर...

यंग लॉरेंस का दूसरा इंटरव्यू: जेल मंत्री के रिश्तेदारों से सीधे तौर पर सीएम मान को चुनौती; 2 दिन पहले डिपार्टमेंट ने अपना हाथ लिया था

Date:

Related stories


अमृतसर30 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पंजाब के प्रशमन भगवंत मान के जेल मंत्रालय ने अपने हाथ में लेने के लिए दूसरे दिन आवेदन पत्र जारी करते हुए जेल से वीडियो कॉल कर खुली चुनौती दे दी है। बहरहाल, डीजीपी पंजाब गौरव यादव पहले बातचीत को पंजाब में होने की बात से इनकार कर रहे थे, लेकिन 24 घंटे के अंदर-अंदर सीएम मान ने सभी अनिश्चितता में निर्णय लेते हुए जेल विभाग को अपने हाथों में लिया था।

14 मार्च की शाम को लॉरेंस लॉरेंस का पहला साक्षात्कार प्रसारित किया गया था। जिसके बाद से ही आप सरकार के निशाने पर आ गया था। 15 मार्च को ही सीएम भगवंत मान ने मिनिस्टर के इनवेस्टमेंट में इनसेट कर दिया। बीते दिनों गोइंदवाल जेल और अब लॉरेंस पार्ट-1 के बाद सीएम भगवंत मान ने जेल विभाग के मंत्री हरजोत बैंस से अपने हाथों में लिया था।

DGP पंजाब ने भी सबसे पहले साक्षात्कार के बाद स्पष्ट तौर पर लॉरेंस का साक्षात्कार पंजाब से बाहर होने की बात कही। 16 मार्च को डीजीपी गौरव यादव को खुद प्रेस कॉन्फ्रेंस करके इंटरव्यू पार्ट-1 पर जांच में गड़बड़ी हुई। खासबात है कि पंजाब में अत्याचार को खत्म करने की बात करने वाली आप सरकार का गृह मंत्रालय भी मुख्यमंत्री भगवंत मान के पास ही है। सीएम मान का विभाग अपने हाथ में लेने के दो दिन बाद ही लॉरेंस का दूसरा इंटरव्यू ब्रॉडकास्ट होने से पंजाब सरकार चाहने लगा है।

बैरक से कॉल करने का दिया सबूत
इंटरव्यू पार्ट-2 में लॉरेंस ने जेल के अंदर से इंटरव्यू करने का सबूत भी दिया। वह अपना बैरक भी दिखाई देता है और कहता है कि उसे बाहर नहीं जाने दिया जाता, लेकिन मोबाइल भी उसके पास आ जाता है और इशारे भी करता है। जबकि बठिंडा को पंजाब की सबसे सुरक्षित जेल कहा गया है, जो जैमर से दर्ज है। डीजीपी तो दावा कर चुके हैं कि बैरक में गार्ड लगातार संकेत ना होने की जांच भी करते हैं।

जेल की कमजोरियाँ भी नौकरी
लॉरेंस ने अपने इंटरव्यू में जहां जेल की बैरक से इंटरव्यू देने का सबूत दिया, वहीं जेल की कमजोरियों को भी उजागर किया। लॉरेंस का कहना है कि रात के समय जेल के गार्ड बहुत कम आते हैं, इसलिए वह रात को कॉल करता है।

मोबाइल बाहर से अंदर फेंका जाता है
लॉरेंस ने मोबाइल के अंदर आने के बारे में भी जानकारी दी। लॉरेंस के मुताबिक मोबाइल बाहर से जेल के अंदर फ्रांज हो जाता है। कई बार जेल कर्मचारी उन्हें पकड़ भी लेता है, लेकिन ज्यादातर बार मोबाइल उस तक पहुंच जाता है।

लॉ एंड ऑर्डर के कारण पहले निशाने पर सीएम मान
जेल से लॉरेंस के साक्षात्कार भाग-2 के बाद सीएम मान के निशान पर हैं। वहीं पंजाब में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति को लेकर मान पहले से ही इसके निशाने पर हैं। सीएम मान ने गृह मंत्रालय को सबसे पहले अपने हाथ में रखा है।

कबड्डी प्लेयर संदीप नंगल अंबिया, फिर पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद हर महीने खतरनाक व हानिकारक तत्वों के मरने वाले लोगों के बाद सीएम मान के गृह मंत्रालय को लौटने की बात भी उठती है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here