HomeIndia Newsराज्यपाल के रूप में भेजा गया 'अमेजन पार्सल' वापस ले सेंटर: हवाई...

राज्यपाल के रूप में भेजा गया ‘अमेजन पार्सल’ वापस ले सेंटर: हवाई अड्डे बोले-महाराष्ट्र में यह पार्सल नहीं चाहते, कोश्यारी को वृद्धाश्रम भेजें

Date:

Related stories

नाबालिग को किस करने की कोशिश, 5 साल की जेल: ड्रेस दिए जाने के बाद छत पर छा गया था

हिंदी समाचारराष्ट्रीयमुंबई में लड़की को जबरदस्ती किस करने की...
  • हिंदी समाचार
  • राष्ट्रीय
  • उद्धव बोले- महाराष्ट्र में नहीं चाहिए ये पार्सल, इन्हें ओल्ड एज होम भेजो

एक मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
- Advertisement -
- Advertisement -

बीजेपी (उद्धव बाला साहेब ठाकरे) नेता वाइडर ठाकरे ने गुरुवार को कहा कि केंद्र सरकार के गवर्नर के रूप में भेजे गए ‘अमेजन पार्सल’ को वापस बुला लें। हम यहां महाराष्ट्र में यह पार्सल नहीं चाहते हैं। केंद्र सरकार इस नमूने को दूसरी जगह भेज या वृद्धाश्रम भेज दे।

- Advertisement -

ठाकरे छत्रपति शिवाजी महाराज को लेकर दिए गए महाराष्ट्र के राज्यपाल बीएस कोश्यारी के बयान पर टिप्पणी कर रहे थे। उन्होंने राज्य के राजनीतिक दलों से अपनी एकता होने की अपील की।

5 दिन में फैसला करें सरकार नहीं तो करें बंद

उड़ने वालों ने कहा कि सभी महाराष्ट्र प्रेमी उनके बयानों का विरोध करते हैं। अगर भाजपा सदस्य असहमत हैं तो वे भी शामिल हो सकते हैं। उन्होंने यह भी चेतावनी दी कि अगर अगले 5 दिनों में उनकी मांग पर कोई फैसला नहीं लिया गया तो उनकी पार्टी राज्य बंद की योजना बनाएगी।

ठाकरे ने कहा कि कोश्यारी ने इससे पहले मुंबई और ठाने में रहने वाले मराठी लोगों के बारे में टिप्पणी की थी। वहीं समाज सुधार की ज्योतिबा फुले और सावित्रीबाई फुले के खिलाफ भी अपमानजनक टिप्पणी की थी।

राज्य सरकार खामोश बैठी है
उडान ने कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज का अपमान किया जा रहा है और सरकार खामोश बैठी है। मुझे समझ नहीं आ रहा है कि सीएम कौन है। लेकिन जो शख्स दिल्ली की तबाही में सत्ता में है, वो राज्यपाल के खिलाफ क्या कहेगा। ठाकरे ने कहा कि इसका क्या मतलब है कि कोश्यारी इन महान लोगों के बारे में केंद्र सरकार की भावनाओं को बता रहे हैं? क्या राज्यपाल का पद वृद्धाश्रम जैसा हो गया है?

शरद पवार ने कहा- राज्यपाल ने सारी हदें पार कर दी हैं

ठाकरे के बयानों के कुछ देर पहले राकांपा प्रमुख शरद ने कोश्यारी की टिप्पणी के लिए अपनी आलोचना की। पवार ने कहा कि राज्यपाल ने सारी हदें पार कर दी हैं। मौन ने कहा कि इस मामले में राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को दखल देना चाहिए। बड़े पद उन लोगों को गलत है जो गैर जिम्मेदार बयान देते हैं।

वहीं बीजेपी सांसद उदयनराजे भोसले ने भी छत्रपति शिवाजी महाराज पर दिए गए बयानों के लिए कोश्यारी और पार्टी नेता सुधांशु त्रिवेदी की आलोचना की है।

महाराष्ट्र के राज्यपालों के बयान…
राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने पिछले दिनों कहा था कि शिवाजी पुराने दिनों के आइकॉन थे। उन्हें बाबासाहेब अंबेडकर और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को स्टेट का आइकॉन बताया गया था। राज्यपाल ने औरंगाबाद में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और NCP अध्यक्ष शरद पवार को डी लिट देने के लिए समारोह में यह बात कही थी।

महाराष्ट्र के राज्यपाल से जुड़ीं और खबरें यहां पढ़ें…

शिवाजी पर राज्यपाल के बयान से शिंदे गुट तल्ख: भाजपा से कहा- राज्यपाल को राज्य से बाहर सरकारी

भोपाल एकनाथ शिंदे के गुट के भाजपा विधायक संजय गायकवाड़ ने मंगलवार को भाजपा से राज्यपाल को हटाने की मांग कर दी। गायकवाड़ ने कहा- राज्यपाल को इतिहास की जानकारी नहीं है। उन्हें राज्य से बाहर भेजना चाहिए। पूरी खबर पढ़ें…

महाराष्ट्र के बोले गवर्नर- मुंबई से राजस्थानियों-गुजरातियों को निकाल दो तो यहां पैसा नहीं बचेगा

भगत सिंह कोश्यारी ने मुंबई में एक कार्यक्रम में मुंबई की आर्थिक राजधानी होने का श्रेय राजस्थानियों और गुजरातियों को दिया था। कोश्यारी ने कहा था, ‘महाराष्ट्र से, विशेष रूप से मुंबई और ठाने से गुजरातियों और राजस्थानियों को निकाल दो तो यहां कोई पैसा नहीं बचेगा। ये आर्थिक राजधानी कहलाएगी नहीं।’ पूरी खबर पढ़ें…

कोश्यारी के बयानों पर रेडियो ने कहा- राज्यपाल ने महाराष्ट्र में हर चीज का आनंद लिया, अब कोल्हापुरी चप्पलें भी देखें

महाराष्ट्र के पूर्व आदित्य ठाकरे ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के गुजरातियों और राजस्थानियों वाले बयानों पर जवाब दिया है। उडाऊ ने कहा कि राज्यपाल ने महाराष्ट्र में हर चीज का आनंद लिया है। अब समय आ गया है कि वो कोल्हापुरी चप्पलें भी देखें। पूरी खबर पढ़ें….

खबरें और भी हैं…

Source link

- Advertisement -

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here