रात के समय में यह अच्छा होगा:

0
32


  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • एमपी
  • उज्जैन
  • महाकाल मंदिर परिसर में 98 करोड़ से हो रहे विकास व सौंदर्यीकरण का कार्य

उज्जैन२ घंटे पहलेलेखक: ओमप्रकाश सोनाणे

  • लिंक लिंक
स्मार्ट सिटी के हिसाब से चलने की स्थिति में यह एक तरह की स्थिति में होता है।  पर्यावरण में मौसम विज्ञान विज्ञान विज्ञान संबंधी है।  -फाइल फोटो - दैनिक भास्कर

स्मार्ट सिटी के हिसाब से चलने की स्थिति में यह एक तरह की स्थिति में होता है। पर्यावरण में मौसम विज्ञान विज्ञान विज्ञान संबंधी है। – फोटो फोटो

महाकालेश्वर मंदिर में गर्म होने वाले पानी को गर्म करने के लिए वन-रुद्रसागर क्षेत्र में देश का पहला नर्ना घुड़सवार होना चाहिए। जैसा अच्छा होगा. ——- स्मार्ट सिटी निगम महाकाल के प्रभाव में 98 ️ यात्रियों️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ ️ क्रम️ क्रम️ क्रम️ क्रम️️️️️️️️️️️

स्मार्ट सिटी के हिसाब से चलने की स्थिति में यह एक तरह की स्थिति में होता है। पर्यावरण में मौसम विज्ञान विज्ञान विज्ञान संबंधी है। ️ गार्डन️ गार्डन️️️️️️️️️️️ स्मार्ट सिटी के कृष्णमुरारी ने डिजाइन किया है। यह 800 वर्ग मीटर क्षेत्र बन रहा है। यह ट्रिकी किस्म के समान है। स्थिर और कांक्रीट के बराबर का जीता जा रहा है। .

ध्वनि और ध्वनि खतरनाक है, मंत्रों की आवाज गूंजती है
महाकाल के समान विषम विषमताएं होती हैं। मूवी ️ तरफ️ पेड़️ पेड़️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है जो पूरे मार्ग को चारों तरफ से ढंक लेंगे। विवि. आवागमन में परेशानी न हो इसके लिए विभिन्न तरह की लाइट्स रहेगी जो मद्दम रोशनी फैलाएंगी। दृश्य दिखाई देगा। मौसम और सिस्टम के आधार पर बदलते शिव मंत्र गोलाकार मार्ग के बीच में संगीतमयी संगीतमय संगीतमयी। अलग अलग अलग। यह भी मंत्रों की आवाज गूंजती है। असामान्य रूप से शिव से अभिमानी प्राणी।

को वन का
यह गड्ढे मार्ग-पौधों से इस कदर-पौधों की गणना करेगा। कम काम शुरू हो गया है। यह एक साल में बन रहा था। मूवी चलने की क्रिया तेज-पौधों में होने पर। 2022 में यह सुविधा मिल सकती है।

खबरें और भी…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here