लखीमपुर के मामले में आज की स्थिति में स्थिर स्थिति में आने पर भी

0
80

नई दिल्ली/लखनऊ6 पहले

  • लिंक लिंक
20 अक्टूबर को प्रकाशित होने वाली स्थिति में यह स्थिति में दिखाई देने वाली थी।  - दैनिक भास्कर

20 अक्टूबर को प्रकाशित होने वाली स्थिति में यह स्थिति में दिखाई देने वाली थी।

यू पी के लखीमपुर में दुर्घटना की स्थिति में जनहित क्रिल (पीआईएल) पर आज की खुशियाँ खुश होंगी। यह जांच के लिए आवश्यक है। 20 अक्टूबर को प्रकाशित होने वाली स्थिति में यह स्थिति में दिखाई देने वाली थी।

ढिलाई पर भी उसने सोचा था
20 अक्टूबर को यूपी सरकार के वकील हरीश ने जांच की थी। इस पर ऐसा करने के लिए कहा गया था, ‘आप कैसा प्रदर्शन करेंगे? कम से कम एक दिन पहले। इस मामले में उत्तर प्रदेश सरकार ने क्या किया? यह कहा गया है कि आपने 44 में ठीक किया है। उस समय जांच की गई थी जब उसने जांच की थी। इस छवि को सुधारें।

बल्कि अतिरिक्त वृध्दि ।

ये 6 प्रश्न

  • अब तक.
  • कैद में थे।
  • जो लोग तैनात थे उन्हें क्या तैनात किया गया था?
  • जो लोग ज्यूस की जांच करेंगे, वे कौन थे?
  • 4000 के कार्यक्रम के कार्यक्रम अब तक दर्ज किए गए हैं?

उड़ान में भी तेज़
लखीमपुर की स्थिति खराब होने की स्थिति में विभाग की जांच पर भी खराब होगा। ने यूपी के वकील हरितश विक्रेता से कि हत्या का मामला दर्ज किया है या नहीं? डिफ़ेक्शन द्वारा आप संदेश भेजेंगे?

हिंसा की घटनाओं की जांच एसआईटी कर रही है।  अब तक 13 जनवरी तक।

हिंसा की घटनाओं की जांच एसआईटी कर रही है। अब तक 13 जनवरी तक।

3 हुई केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र का मिश्र का पेशा इस मौसम में।

खबरें और भी…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here