वतन स्वास्थ्य लॅक माँ ने चूरमाँ, पापा बोल- अब ओलिंपिक पाइं जयितो

0
225


  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • हरियाणा
  • रोहतक
  • रूस में आयोजित जूनियर विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में भारतीय पहलवान दीपक नेहरा ने जीता कांस्य पदक, हवाई अड्डे पर गर्मजोशी से स्वागत

रोहतक5 पहले

  • लिंक लिंक
सलवी दीपक नेहरा ने अपने पिता को पहनाया।  - दैनिक भास्कर

सलवी दीपक नेहरा ने अपने पिता को पहनाया।

क्लास में बैठने के लिए क्लास में बैठने के लिए क्लास में बैठने के लिए क्लास में बैठने के लिए क्लास में बैठने की स्थिति में यात्रियों को बैठने की स्थिति में प्रभावी होगा। मगन फूल-मालाओं से परिचय हुआ। माँ ने माँ दीं का चूरमा दीपक। जीवन में स्वस्थ रहने के लिए उपयोगी होगा।

हवाई अड्डे पर दीपक का भव्य परिचय
हवाईअड्डे पर कार्यक्रम के बाद दीपक कोच के साथ हिसार के गांव में शाहिद भगत सिंह खेल खेलते थे। ️ अब के गांव खुशियों के लिए खुशियों के मौसम में रहने वाले हैं। आगामी

दीपक नेहरा का परिचय।

दीपक नेहरा का परिचय।

हंगरी के पहलवान को पटखनी देकर जीता था कांस्य

है दीपक की आयु 19 साल। वह 97

6 साल की उम्र से बाहर हैं

दीपका के पिता सुरेंद्र नेहरा बताते हैं कि उसको 6 साल की उम्र में ही पहलवानी सीखने के लिए बाहर छोड़ दिया था। हिसार की समस्या में डालने वाला, इंजेक्शन लगाने में जटिल प्रबंधन द्वारा इंजेक्शन लगाया गया था।

१९ साल की उम्र में दीपक की बढ़ती उम्र

  • 5 से अधिक बार स्तर पर गोल्ड
  • 2 बार इंडिया में गोल्ड
  • दो बार में 17 गोल्ड
  • एक बार स्वर्ण में

खबरें और भी…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here