HomeIndia Newsवेतन में लिंग-जाति-धर्म भेदभाव: देश में महिला कामकाज में गड़बड़ी 100% तक;...

वेतन में लिंग-जाति-धर्म भेदभाव: देश में महिला कामकाज में गड़बड़ी 100% तक; मुस्लिमों में 17% संपर्क

Date:

Related stories

हरियाणा भिखारी से टेस्ट: आदमपुर उपचुनाव पहली बार 8 सेल से नियमित रूप से पार्टी

सुनीत सिंह थिंड, हिसार5 पहलेहranadauraurauth संगठन बनने बनने बनने...
  • हिंदी समाचार
  • सुखी जीवन
  • ऑक्सफैम इंडिया की रिपोर्ट में कहा गया है कि लिंग जाति और धार्मिक भेदभाव के कारण लोगों को कम वेतन मिल रहा है

3 पहले

- Advertisement -
- Advertisement -

भारत में आज भी वैज्ञानिक, धर्म और लिंग के आधार पर सूचक हो सकता है, इस प्रकार का गुण दोष इंडिया की नई ‘इंडिया एंटिमिनेट इंडिया’ से 2022′ तक। इस तरह से तय किए गए हैं। खराब व्यवहार के कारण कर्मचारियों में कामकाज में 100% गड़बड़ी है। मौसम, समाचार में यह 98% है।

- Advertisement -

पुरुष
जैसा कि कहा जाता है कि एक समान अनुभव और अनुभव वाले पुरुष महिला से 2.5 गलघोंले होते हैं। पेन्शन के मामले में 93% का अंतर आभास है। महिला गर्भवती महिला में मासिक रूप से मासिक बिजली की दर 3,000 होती है। मादा और महिला के बीच में अंतर का 91.1% क्रेडिट योग्यता है। हेंड, प्रेविण्ट पॅनिशनिंग और टों की कम कमाई का 66%

अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के साथ विभेदक
रिपोर्ट मर्सेट, सिटी में SC और ST मध्यम औसत सामान्य वर्ग के लोग SC/ST विज्ञापन के लोग से 33% बौडी हैं।

सामान्य वर्ग के लोगों के लोग SC/ST के लोगों से एक बढ़े हुए होते हैं। दावा करने वालों का दावा है कि एससी/एसटी समूह से होने के लिए एकड़ एक हर एक को क्लास की परस्पर में मिलते हैं।

कोरोना में सबसे अधिक ऋणग्रस्त
2020 से 2019-20 में 15.6 साल की आयु की आयु की आयु की आयु की आयु में से 15.6% के हिसाब से वेतन भुगतान आवास योजनाएँ। ठीक ठीक काम करने वाले-मुसलमानों में 23.3% बेहतर वेतन भोगी नौकरी कर रहे हों। शहरी

कनेक्शन की बात करने के लिए. खुद kayta क r क rayt kayr-मुस the ह rur महीने औसत औसत औसत878 raut ray ray raut r हैं, तो वहीं मुस elaurुपए 11,421 ray ही ही ही ही ही ही ही ही ही

खबरें और भी…

Source link

- Advertisement -

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here