संकल्प पपला को सजा: समाधान का पूरा समाधान; एक दिन पहले ही मर गया था

0
61

रेवाड़ी4 पहले

  • लिंक लिंक

नामी विक्रम विक्रम वृषण पपला गुर्जर को मेरडर के एक मामले में आज हरियाणा की नारनौल उत्पाद उत्पाद। नारनौल के अतिरिक्त जिए सुधीर जीवन की अगली सुबह का फैसला। एक दिन पहले ही बिमला के लिए एक ऋण जमा किया गया था। बिमला की 6 साल पहले पपला गुर्जर ने 23 गोल मारकर हत्या कर दी थी। इस मामले में 6 इस तरह के लाभ उठाए गए हैं।

सबसे अधिक बिकने वाले कमरे में कमरे के तापमान को कम करने के लिए कमरे से बाहर निकलने की समस्या को कम करने के लिए कमरे से बाहर निकलने की समस्या को कम करना बिमला को 23 गोल… केस केस में कुल 7 इंसान की धारा 148, 149, 302, 120बी वैट के मामले में संक्रमित था। संपादकों से मुलाकात की। एक दिन में ही पपला को नारनौल की पहली बार एक ने बिमला मरडर केस में डायरेक्टर था। 12 अप्रैल 2018 को संकट के मामले में ऐसा हुआ था। आवाज सुनाने के लिए आवाज उठाई।

मौसम या आयुकैद आज खेल
अवाक् के एडवोकेट ने शादी के बाद शादी की। अजीबोगरीब घटना सुना सुना। अजय चौधरी के अनुसार पपला को FSL, बिमला की बैटरी पर दैवर पर ड़ाराम की स्थिति के आधार पपला को लश्कर है। एफएसएल ने यह तय की। 9 एमएम पिस्टल और दूसरे काटने के लिए एक निरंतर आगे बढ़ें।

29 को नारनौल चेक करें
पला को बाद से पपला की शुरुआत में ही रुका हुआ था। 6 साल पुराने बिमला मरडर केस में प्रकाशित होने की तारीख में प्रकाशित होने की अपील की। दस्तावेज़ में प्रस्तुत करने के लिए आदेश दिया गया था। 29 फरवरी को पेशी के बाद एएसजे सुधीर जीवन ने पपला को नसीबपुर में कार्य करने के लिए आदेश दिया। बाद से पपला नसीबपुर में बंद है।​​​

2 साल पहले बहरोड़ थाना काम या
हरियाणा में अपराध दर्ज करें। हरियाणा पुलिस के इस वांछित बदमाश को 6 सितंबर 2019 को चैकिंग के दौरान राजस्थान की बहरोड़ थाना पुलिस ने उसे 32 लाख की मोटी रकम के साथ हिरासत में लिया था। पुलिस पुलिसवाले को पुलिस में तैनात किया गया था। सामान्य बदमाशी करना बहरो थाना के लिए लॉग इन करना था। अलासुबह पपला थाने ने एक-47 से बहरोड़ थाना पर आक्रमण किया था और पपला को पोस्ट किया था। बड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने पपला को कोल्हापुर से तैनात किया था। बाद में इंजेक्शन लगाने के बाद नारनौल को नसीबपुर में रखा गया था।

खबरें और भी…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here