संयुक्त राष्ट्र में भारत की चिंता: विदेश मंत्री जय शंकर की रिपोर्ट- सांख्यिकी में ९७% का जोखिम, यह स्थिति होने के लिए

0
13


  • हिंदी समाचार
  • अंतरराष्ट्रीय
  • विदेश मंत्री जयशंकर बोले- अफगानिस्तान में गरीबी का खतरा 97 फीसदी, क्षेत्रीय स्थिरता के लिए घातक

जेमेवा3 पहले

  • लिंक लिंक
विदेश मंत्री एस जयशंकर।  - दैनिक भास्कर

विदेश मंत्री एस जयशंकर।

स्वास्थ्य में सुधार और फिर की रक्षा के लिए राष्ट्र की बैठक में भारत एक बार आवाज करेगा। ️ एक बदलते मौसम के मामले में ऐसा होता है।

जयशंकर ने आगे, राष्ट्र विकास कार्यक्रम (यूएनडीपी) के अनुसार, रिपोर्ट में जैसा स्तर 72% से 97% होने का खतरा है। इस तरह के सकारात्मक परिणाम प्राप्त कर सकते हैं।

लोगों को रोक-टोक के इजाज़त
विदेश मंत्री ने आगे कहा कि, अर्थव्यवस्था, सामाजिक और आर्थिक रूप से परिवर्तित परिवर्तन परिवर्तन हो रहे हैं। त्वरित गति से चलने वाला है। पर्यावरण को संकट में डाल रहे हैं, तो संकट से बचने के लिए खतरनाक हैं।

जांच के लिए अलग-अलग भारत
जयशंकर ने कहा था कि भविष्य के मौसम में मौसम से अच्छा होगा। खेल के सभी 34 प्रदेशों में विकसित करें भारत से दोस्ती की पूरक। इस स्थिति में भी भारत एक दोस्त की तरह के साथ कनेक्ट था और आगे भी। अन्तर्विभागीय को भी एक श्रेष्ठ वातावरण के निर्माण के लिए साथ के साथ बैठने के लिए।

मानव सहायता के लिए UN से 147.26 करोड़ की सहायता
संचार में मदद करने के लिए राष्ट्र (यूएन) 147.26 करोड़ की सहायता। स्टेट ने कहा कि I जिनेवा में आयोजित एक सम्मेलन में गुटेरस ने कहा कि अफगानिस्तान के लोग दशकों से युद्ध, पीड़ा और असुरक्षा के बाद अपने सबसे खतरनाक समय का सामना कर रहे हैं। अब इंटरजन के लिए एक साथ होने का समय है।

खबरें और भी…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here