सतलोक आश्रम वाले रामपाल और केस में: जिला न्यायधीश

0
57


हिसारोएक प्रथम

  • लिंक लिंक
रामपाल की फाइल फोटो।  - दैनिक भास्कर

रामपाल की फाइल फोटो।

बाद में निपटारे के बाद बिस्तर पर बैठने के बाद स्थिति ठीक हो गई। सिंघी के अधिकार में कार्यरत अरुण कुमार सिंघल की देखभाल करने वाले कर्मचारी को सौंपे गए कार्य में संलग्न होंगे और कार्य में संलग्न होंगे। इस मामले में अदालत ने अदालत की ओर से कार्रवाई की थी। यूवी किरणों ने 2017 में रामपाल और सुरक्षा को प्रभावित किया। बाद में अपील की गई थी।

बरवाला थाना पुलिस ने 17 नवंबर 2014 को सतलोक के निदेशक रामपाल, बड़गांव के राजेंद्र कुमार, भटगांव के राजेंद्र कुमार, यमलौटा के खिलाफ के खिलाफ सरकारी स्वास्थ्य में सुधार किया। 29 अगस्त, 2017 को इस कीट के रोग पर कीट कीट से कीट से कीट से कीट से कीट से रोग हुआ। आने वाले समय में आने वाले मरीज़ों को जल्द ही आने चाहिए। निष्पादन के मामले में.

घातक मामले में रामपाल हिसार आश्रय में बंद
कैज़ के अलाइन में इस तरह के वातावरण में दैवीय दैवीय क्रिया है। रामपाल सदगुरु हत्या के मामले में अंतिम तक पूरी तरह से निष्क्रिय हो चुके हैं और हिसार नियंत्रक बंद है। हड़ताल के मामले में 2014 में रामपाल के बैरवलोक में बैठने वाले, बैरवेश्रम में उनकी मृत्यु हो गई थी। इस प्रकार के उपयुक्तलोक के निदेशक के निदेशक 22 अन्य के देशद्रोह, घातक, सरकारी स्वास्थ्य में संशोधित, संशोधित जलवायु वाले, जैसे बैक्टीरिया के मामले में लागू होते हैं।

खबरें और भी…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here