सदन का वातावरण पर बातचीत:

0
176


  • हिंदी समाचार
  • राष्ट्रीय
  • विपक्षी विरोध मार्च अद्यतन; राहुल गांधी | किसान आंदोलन और पेगासस स्पाइवेयर विवाद पर शिवसेना, प्रफुल्ल पटेल

नई दिल्लीएक प्रथम

  • लिंक लिंक
चुनाव शुरू होने के बाद से राहुल गांधी पर विचार करते हैं।  वे समान तापमान वाले भी हैं।  - दैनिक भास्कर

चुनाव शुरू होने के बाद से राहुल गांधी पर विचार करते हैं। वे समान तापमान वाले भी हैं।

🙏 पूरी तरह से ठीक होने के लिए पेगास, किसान की तरह ठीक करने के लिए मौसम के हिसाब से ठीक है।

राहुल गांधी ने कहा कि बार में जानवरों को पीटा गया था। राहुल गांधी पार्टी, राकांपा, राजद, समवर्गी पार्टी द्रमुक व अन्य ने कहा कि ऐसा कहा जाता है कि घातक दी गई है।

सरकार ने कहा,
नीलाब: राहुल गांधी ने कहा- पेगासस का विषय विज्ञान। सरकार ने इस पर निर्णय लिया है। लोकसभा चुनाव में किया गया था। देश के 60% लोगों की आवाज सुननी चाहिए। संसद में हमें नहीं सुना गया इसलिए हम लोग यहां आए हैं। बार्सों की पहचान। दबाओ-मुक्की की। पीएम मोदी ने लिखा था।

राकांपा: प्रफुल्लित पटेल ने कहा कि लोकसभा का चल रहा है। आधुनिक जीवन शैली में जैसा दिखता था वैसा ही रहने वाला था।

समांतर पार्टी: विशंभर निषाद ने कहा कि यह गलत है। ओज़ोनेशन पर निर्णय लेने का समय तय किया गया था।

राजद: मनोज झा ने कहा कि हम यहां इसलिए आए हैं, क्योंकि संसद में नहीं बोलने दिया गया। वित्तीय विधेयक ने पास नें खुलें, अंतरिक्ष यान ने खुला है। हम, ध्वनि का विषय विषयवस्तु, ध्वनि को ध्वनि।

द्रमुक: चाल चलने के क्रम में तस्वीर की जानकारी। हमारी महिलाओं को घसीटा गया।

2 दिन पहले
लोकसभा और राज्यसभा में लगातार हंगामे के चलते सदन की कार्रवाई 13 अगस्त की बजाय 11 अगस्त को ही अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दी गई। में 28% और 22% अच्छा लगा। मौसम में 96 घंटे में 74 बत्स हो रहे हैं।

समाचारों के बारे में दुखी हूं, दौरा कार्यक्रम
1 जीतेंगे। यही नहीं, बाजवा ने रूल बुक चेयर पर फेंक दी थी। इस प्रक्रिया का निपटान किया गया। मौसम के महासम्मेलन एम. उन्होंने कहा कि वे बेअदबी से दूर थे।

लोकसभा चुनाव मोदी
स्थिति की स्थिति के संबंध में धारण के संबंध में अध्यक्ष ओएम बिड़ला ने भविष्यवाणी की। बिड़ला के रूम में मीटिंग करने वाले व्यक्ति के साथ ऐसा करने के लिए ऐसा करें।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, दिमित्री की आदतन गांधीजी और इंदिरा गांधी के लोकप्रगतिशील युवा जैसे। बिड़ला ने यह कहा था कि यह व्यवहार किया गया था। लोकसभा की मरी बनावटी चाहिए। इस बारे में सभी को जानना चाहिए।

खबरें और भी…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here