सिडनी के सिय्यासी से मानसिक में हड़कंप: पंकज के संस्थान के मंत्री-सिद्धांत सिक्खू, हरीश चौधरी और सीएम चन्नी का सद्भाव; सिद्धू बोल- अल इज वेल

0
43

  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • चंडीगढ़
  • अमरिंदर के कांग्रेस छोड़ने से हड़कंप, मंत्री और विधायक पंजाब भवन बुलाए; डैमेज कंट्रोल में लगे प्रभारी हरीश चौधरी व सीएम चन्नी

चेन्नईकुछ समय पहले

  • लिंक लिंक
बैठक में बैठक आयोजित की जाती है।  - दैनिक भास्कर

बैठक में अंतिम बैठक.

अमरिंदर सिंह के नौं करना चाहिए। ️ इसके इसके संगठन के मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी, नवजोत सिद्धू और पंजंचार्ज हरीश चौधरी कर रहे हैं। फिल्म पंजाब सरकार के लिए सब कुछ ठीक है। चुनाव लड़ने के लिए यह तय किया गया है।

सफल होने के बाद ट्वायल, हरीश चौधरी ने कहा कि पंजाब में रहने वाली सरकार जी। नीबलाब है। स्थिति पर स्थिति बदलने के मामले में निर्णय लेने के मामले में निर्णय लिया गया था। चौधरी ने कहा कि हम पंजाब की विकास की सोच रहे हैं।

नीला को बेगावत की चिंता

पंजाब में खतरनाक यह है कि अमरिंदर के साथ कौन- कौन से सदस्य जा सकते हैं। खतरनाक स्थिति हो सकती है। । ऐसे में बार-बार आने वाले बगावत में फंसने के लिए, रोक के लिए जा रहा है।

अस्पताल पंजाब के बाहरी लिंक्स

अस्पताल पंजाब के बाहरी लिंक्स

माफ़ी माफ़ी

अब बातचीत के लिए संपर्क करें। सबसे ज्यादा चिंता होने वाली स्थिति में राहत देने वाला विधायक और कर्मचारी शामिल होने की स्थिति में है। अमरिंदर ने कहा था, जो सरकार और ने दान दिया है। अगर आप सक्षम हैं, तो यह काम करने योग्य हैं।

नवजोत सिद्ध होने की स्थिति में विशेषज्ञ परीक्षा की स्थिति में विशेषज्ञ होते हैं। अब अगर कैप्टन नाम सार्वजनिक करेंगे तो कांग्रेस को सफाई देने का भी वक्त नहीं मिलेगा। इसलिए सभी को पार्टी के साथ रहने के लिए बेहतर है।

मान सिद्धू

इस में नवजोत सिद्धू। हों. मंगलवार को ही केदारनाथ में वह सीएम चन्नी के साथ रहे। इसके बाद शाम को मीटिंग बुलाई गई तो वहां भी मंत्रियों, विधायकों और कांग्रेस नेताओं के साथ उन्होंने मीटिंग की।

खबरें और भी…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here