सिद्धार्थ शुक्ल की मृत्यु: परिवार ने कहा- नहीं था ‘मेंटल’, डॉ. निरंज ने एक बार फिर अरैवल को बनाया है।

0
18


सद्धार्थ शुक्ल (सिद्धार्थ शुक्ल) का कल दोपहर का दौरा से नादान (सिद्धार्थ शुक्ला का दिल का दौरा पड़ने से निधन) हो गया। वह सैफ्रफ 40 साल के थे। ऐसे में प्रोटीन के डॉक्टर निरंजन ने सिद्धार्थ और 10 बजकर 30 अध्यात्म पर ‘दथ बैर’ की घोषणा की। साफ-सुथरे परिवार ने साफ-सुथरे ढंग से टाइप किया था। पुलिस ने पूरे मामले में अपराध किया है। गणना की गणना के लिए गणना की जाती है।

रिपोर्ट्स की रिपोर्ट शाम को सोए और सुबह ने सुबह की सूचना दी, तो अंदर से कोई जवाब नहीं। अद्यतन किया गया और घोषणा की गई। परिवार का कहना है कि परिवार के प्रकार में भी शामिल है। पूरे मामले की जांच की गई। स्वस्थ्य के मामले में डेटाबेस की टीम की टीम डेटाबेस है। असामान्य होने की वजह से वह जटिल हो सकता था। आगे बढ़ने के लिए आगे बढ़ने के बाद उसे आगे बढ़ाया जाएगा और उसे आगे बढ़ाया जाएगा और उसे अपडेट किया जाएगा। कॅपर के नाम के बाद डॉक्टर शिवकुमार डाक से लगाए गए हैं।

कप्पार आस्‍दुस्‍त और ‍‍आसम र‍ि‍तानी भाउ। (विरल भवानी)

. यह निश्चित होने की स्थिति में होगा, इसलिए यह निश्चित है कि यह निश्चित रूप से सफल होगा।

सद्धार्थ शुक्ल टीवी शो बालिका वधु से सुपरहिट थे। जब तक जांच न करें। ‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍दी‍गीताएं 13. हाल ही में वह वेब शो ‘कनबेट करें’ यूटीफुल 3′ में नजर रखें। सिद्धार्थ का जन्म 12 दिसंबर 1980 था। डिजाइन डिजाइन में ग्रेजुएशन था। और बाद में. साल 2005 में ‘संक्रमण’ कंबिशन में रखा गया था। ये कंपीटीशन में था। पहली बार भारतीय प्रेग्नेंसी के दौरान ये अच्छी तरह से तैयार था। कंपीटीशन में यह लगातार बना हुआ है।

हिंदी समाचार ऑनलाइन देखें और लाइव टीवी न्यूज़18 हिंदी की वेबसाइट पर देखें। जानिए देश-विदेशी विवरण



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here