HomeIndia Newsसोरेन से ईडी की पूछताछ...100 सवालों की सूची तैयार: बोले- 1000 करोड़...

सोरेन से ईडी की पूछताछ…100 सवालों की सूची तैयार: बोले- 1000 करोड़ का घोटाला संभव नहीं, कार्रवाई ऐसी जैसे देश में रहने वाला हूं

Date:

Related stories

बंगालियों परेश के बयान, ममता के कहने का तंज: अभिषेक बनर्जी बोले- बीजेपी नेता सुवेंदु ने किया विरोध तो ED-CBI नोटिस भेजेंगे

हिंदी समाचारराष्ट्रीयपश्चिम बंगाल टीएमसी अभिषेक बनर्जी बनाम बीजेपी शुभेंदु...
  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • झारखंड
  • रांची में झामुमो कार्यकर्ताओं का जमावड़ा, धन शोधन व अवैध खनन मामले में पूछताछ

रांचीएक मिनट पहले

- Advertisement -

अवैध अपराध मामले में ईडी की शरण हेमंत सोरेन से पूछताछ जारी है। प्रश्न पूछताछ के लिए 100 प्रश्नों की सूची तैयार की गई है। इसके लिए ब दिल्ली से अधिकारियों की टीम पहुंचती है। इन सवालों में 1000 करोड़ का अवैध जुआ का मामला। मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े सवाल शामिल हैं। साथ ही उनके विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा के घर से मिले दस्तावेजों के संबंध में भी सवाल किए जाएंगे।

- Advertisement -

- Advertisement -

ईडी की पूछताछ से पहले सोरेन ने ईडी, केंद्र सरकार और राज्यपाल का लेखा-जोखा किया है। सोरेन ने अपने ऊपर झूठ को गलत बताया है। उन्होंने कहा कि ऐसे समन भेजे जा रहे हैं। जैसे मैं देश जाने वाला हूं।

सोरेन ने केंद्र पर सरकार को गिराने की साजिश रचने का आरोप लगाया है। राज्यपाल को घेरते हुए उन्होंने कहा कि वो साजिश रचने वालों के साथ दे रहे हैं।

राज्यपाल की चुप्पी पर सवाल

सर ने पूरे मामले में राज्यपाल रमेश बैस की चुप्पी पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग की ओर से चिंता जताई गई चिट्ठी पर राज्यपाल अब तक मौन हैं। कई बार बोलने पर ही इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई। मी मीडिया के बारे में पता चलता है कि वे इस पर फिर से राय व्यक्त करते हैं। सीएम ने राज्यपाल पर सरकार के खिलाफ साजिश रचने वालों को संरक्षण देने का आरोप लगाया है।

इतना बड़ा घोटाला से परे

सोरेन ने कहा कि अवैध खनन के मामले में मुझे बुलाया गया है। 1000 करोड़ के घोटाले की जो बात आ रही है, वो कहीं से भी संभव नहीं लगता। एक हजार करोड़ के घोटाले का जिक्र आया है, इसका आधार कैसे बना यह समझ से परे है। इतने बड़े घोटाले के लिए कितना खनन होगा ये सोचने की जरूरत है। यह आरोप कहीं से भी संभव नहीं है। एजेंसी को पूरी विस्तृत जानकारी दी जाएगी।

सोरेन ने केंद्र पर सरकार को गिराने की साजिश करने का आरोप लगाया।

सोरेन ने केंद्र पर सरकार को गिराने की साजिश करने का आरोप लगाया।

सरकार को स्थिर करने की कोशिश

सीएम ने कहा कि समन की ऐसी कार्रवाई चल रही है, जैसे मैं देश छोड़कर जाने वाला हूं। हेमंत सोरेन ने कहा कि ये सभी सरकारें स्थिर रहने की कोशिश कर रही हैं। चुनाव आयोग की ओर से लिफाफा आजतक राज्यपाल ने नहीं खोला। राज्यपाल सरकार गिरने की कोशिश में लगे लोगों को संरक्षण दे रहे हैं।

सोरेन ने कहा कि इससे जुड़ने वाले घर पीड़ित हो रहे हैं।

सोरेन ने कहा कि इससे जुड़ने वाले घर पीड़ित हो रहे हैं।

मंगलवार का घर होगा रेड

सरकार को गिराने की साजिश का आरोप दावा करने वाले सीएम सोरेन ने कहा कि सत्ता के दिनों में सत्ता के कुछ घर लाल होंगे। मुझे इसकी जानकारी मिली है। जांच-पड़ताल को हमें परेशान करने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। सरकार बनने के बाद से ही इसे गिराने की साजिश रची जा रही है।

ईडी ऑफिस, राजभवन और बीजेपी ऑफिस की सुरक्षा बढ़ाई गई

पूछताछ को लेकर ईडी ऑफिस में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। भोपाल से पूछताछ के लिए नोएडा कार्यालय से ईडी के वरिष्ठ अधिकारी रांची पहुंचे। साथ ही राजभवन और बीजेपी ऑफिस में भी सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। शोकहारा चौक से होटल ग्रीन एकर्स तक धारा 144 लागू कर दिया गया है। सुरक्षा के आश्वासन लिए गए हैं।

ईडी ने दूसरी बार समन भेजकर नौजवान हेमंत सोरेन को पूछताछ के लिए बुलाया है। ईडी ने इससे पहले तीन नवंबर को पूछताछ के लिए बुलाया था, लेकिन हेमंत सोरेन ने अपनी व्यस्तता का हवाला देते हुए समय की मांग की थी। इसके बाद ईडी ने आज यानी 17 नवंबर को समय दिया था।

ईडी कार्यालय की अधिकतम सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

ईडी कार्यालय की अधिकतम सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

अवैध खनन और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सीएम से पूछताछ
हेमंत सोरेन के तार अवैध खनन और मनी लॉन्ड्रिंग से गठजोड़ का आरोप है। 8 जुलाई को ईडी ने हेमंत सोरेन के करीबी पंकज मिश्रा के घर पर अभिलेखन की थी। यहां से एजेंसी को हेमंत सोरेन का बैंक पासबुक साइन किया हुआ दो चेक और चेक बुक मिला है। सितंबर में चार्ज करते हुए ईडी ने बताया था कि जांच में अवैध खनन में एक हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की हेराफेरी होने के सबूत मिले हैं।

अब तक ईडी ने 5.34 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। बैंक में सागर 13.32 करोड़ रुपए फ्रीज किए गए हैं। इतना ही नहीं 30 करोड़ रुपए का एक जहाज भी ज़ब्त किया गया है। बताया जाता है कि इस जहाज का इस्तेमाल अवैध खनन से खींचे जाने के लिए किया जाता था। ईडी ने अपने चार्ज में लिखा है कि पंकज मिश्रा अवैध खनन में शामिल थे और उन्होंने हेमंत सोरेन के निर्देश पर करोड़ों रुपए की हेराफेरी की। इस मामले में पंकज मिश्रा के साथ-साथ बच्चेचू यादव और प्रेम प्रकाश को भी गिरफ्तार किया गया है।

जेएमएम अभ्यर्थी का महाजुटान

भोपाल हेमंत सोरेन के ईडी के विशिष्ट पेश को लेकर झारखंड मुक्ति मोर्चा के अभ्यर्थी का महाजुटान रांची के मोरहाबादी मैदान में कल शाम से ही शुरू हो गया था। इससे पहले जब ईडी ने 3 नवंबर को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पूछताछ के लिए बुलाया था, उस वक्त भी कैमरे का ग्रुप सीएम आवास पहुंच गया था। सीएम हेमंत सोरेन ने उस वक्त पढ़ने वाले को संबोधित करते हुए खुली चुनौती दी थी जिसमें कहा था कि हिम्मत है, तो ईडी गिरफ्तार करें।

पार्टी के जामवड़े को लेकर पार्टी की प्रवक्ता और सांसद महुआ माजी ने कहा- राज्यभर से जेमाम कार्यकर्ता मोरहाबादी मैदान पहुंचे हैं। सभी 1932 के खतियान और ओबीसी रिजल्ट को लेकर सीएम के प्रति अपना मजा लेना चाहते हैं।

30 करोड़ के जहाज से अवैध जुआ: सीएम सोरेन के करीबी पंकज का काला कारोबार; अलग-अलग खाते से 36 करोड़ भी मिले

झारखंड टेंडर घोटाला मामले में केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी की कार्रवाई में गुरुवार को एक बड़ा खुलासा हुआ है। हेमंत सोरेन के करीबी और उनके विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा के पास से एक जहाज बरामद हुआ है, जिसका अवैध खनन में इस्तेमाल किया जाता था। इसकी कीमत करीब 30 करोड़ रुपए बताई जा रही है। ईडी के मुताबिक मिश्रा के करीबियों के बैंक खातों में 36 करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि मिली है। ED ने एक अंतर्देशीय पोत-एमवी इंफ्रा लिंक-111 को भी ज़ब्त कर लिया है। जांच एजेंसी ने 20 जुलाई को पंकज मिश्रा को गिरफ्तार किया था। पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें।

झारखंड में ईडी के हिस्से में मिली दो एके-47:सीएम हेमंत सोरेन के करीबी घर तिजोरी में रखी गई थीं, दो सुप्रीम सस्पेंड

झारखंड के खनन घोटाले में बुधवार को 16 ठिकानों पर ईडी ने छापा मारा। रेड मारी स्थित ठिकानों पर स्थित प्रेम संबंधों के निकट मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का प्रकाश डाला गया। प्रेम प्रकाश के घर तिजोरी से 2 एके-47 बरामद की गई। 60 कार्ट्रिज भी मिले। इसकी तस्वीरें सामने आई हैं। रांची के अरगोड़ा थाना चार्ज विनोद कुमार का दावा है कि दोनों एके-47 और कारतूस जिला पुलिस के रिकॉर्ड हैं। देर शाम दो बुलेटिनें सपेंड कर दी गईं। पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें।

खबरें और भी हैं…

Source link

- Advertisement -

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here