HomeIndia Newsहिमाचल के रास्ते-कुल्लू में भूकंप: 5 पासपोर्ट होने का एहसास, इंटेसिटी 4.1...

हिमाचल के रास्ते-कुल्लू में भूकंप: 5 पासपोर्ट होने का एहसास, इंटेसिटी 4.1 और सेंटर जोगेंद्रनगर

Date:

Related stories

निष्क्रिय/कुलु/मंडीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
- Advertisement -
प्रतीकात्मक तस्वीर - दैनिक भास्कर
- Advertisement -

सांकेतिक तस्वीर

- Advertisement -

हिमाचल प्रदेश के बाजार और कुल्लू सहित हमीरपुर के कुछ हिस्सों में बुधवार की रात भूकंप के संकेत महसूस किए गए। रिक्टर स्कैन में इसकी तीव्रता 4.1 काँटा हो गई है। भूकंप का केंद्र खरीदारी का जिले जोगेंद्रनगर रहा। भूकंप की रात करीब 9:00 बजे आई।

हिमाचल प्रदेश सिसमिक जोन में आता है। ऐसे में अचानक सब कुछ हिलता देखकर लोग डर गए। हालांकि इशारा होने से किसी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ, लेकिन कई इलाकों में लोग घरों से निकल आए। कहे जाने पर रूक गए। लंबी लाइनें लग गईं।

भूकंप के संकेत5 क्षमा करें तक महसूस किया
जानकारी के अनुसार, कांक के संकेत लगभग 5 पेपर तक महसूस किए गए। बाजार सहित कुल्लू जिले के अधिकतर क्षेत्र और जोगेंद्रनगर से क्षेत्र में इसका प्रभाव ज्यादा हो रहा है। भूकंप के कारण लोगों के घरों में पंख कहीं हिलने लगे। वहीं, कुछ घरों के बर्तन और दीवारों पर लगे चित्र भी हिल गए।

सोशल मीडिया पर फर्जी वीडियो वायरल
सोशल मीडिया पर बुधवार रात कुल्लू-मंडी में आए भूकंप के नाम से एक फर्जी वीडियो वायरल हो रहा है। इस पर एसपी कुल्लू गुरदेव शर्मा का बयान आया है। उनका कहना है कि सोशल मीडिया पर जो वीडियो वायरल हो रहा है, वह कुल्लू जिले की टनल का नहीं, बल्कि किसी दूसरी जगह का है। सोशल मीडिया पर भ्रांतियां फैल रही हैं, जबकि अटल टनल रोहतांग में ऐसी कोई घटना नहीं हुई है।

दिल्ली-एनसीआर में फिर से भूकंप, तीव्रता 5.4 दर्ज करें
दिल्ली-एनसीआर में बीते शनिवार को भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके थे। इसकी तीव्रता रिक्टर स्कैन पर 5.4 दर्ज की गई थी। इसका केंद्र नेपाल था। इससे पहले मंगलवार को भी यहां भूकंप के एहसास के संकेत मिले थे। इसका केंद्र भी नेपाल में था।

तीन तीन घंटे पहले उत्तराखंड में पहाड़ी जमी थी
उत्तराखंड में भी शनिवार शाम 4 बजकर 25 मिनट पर भूकंप के संकेत महसूस किए गए थे। रिक्टर स्कैन पर इसकी गहनता 3.4 थी। भूकंप के झटकों से लॉग हाउस और देखने से बाहर निकल आए थे।

नेपाल के दोती जिले में मंगलवार को आए भूकंप में एक घर गिर गया।  डबकर में 6 लोगों की मौत हो गई।

नेपाल के दोती जिले में मंगलवार को आए भूकंप में एक घर गिर गया। डबकर में 6 लोगों की मौत हो गई।

मंगलवार को नेपाल में आया था 6.3 तीव्रता का भूकंप, 6 की मौत; भारत के 5 संकेत
पड़ोसी देश नेपाल में मंगलवार देर रात 6.3 तीव्रता का भूकंप आया था। इसका इशारा दिल्ली, यूपी समेत उत्तर भारत के 5 राज्यों में महसूस किया गया था। लोगों के घरों से बाहर निकल आए। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक, नेपाल में भूकंप 9 नवंबर की रात 1 बजकर 57 मिनट पर आया। इसका केंद्र नेपाल के ही मणिपुर में जमीन से 10 किमी नीचे था। यहां दोती जिले में 6 लोगों की जान चली गई थी।

भूकंप क्यों आता है?
भूगर्भ वैज्ञानिकों के मुताबिक, भूकंप की असली वजह टेक्निकल फीयर में तेज हलचल होती है। इसके अलावा उल्का इम्पैक्ट और ज्वाला विस्फोट, माइन टेस्टिंग और जेजर टेस्टिंग की वजह से भी भूकंप आते हैं। रिक्टर स्कैन पर भूकंप की तीव्रता जात है। इस स्कैन पर 2.0 या 3.0 की तीव्रता का भूकंप आता है, जबकि 6 की तीव्रता का मतलब ताकतवर भूकंप होता है।

खबरें और भी हैं…

Source link

- Advertisement -

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here