️ राव️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

0
9


रेवाड़ी/झज्जर15 पहला

  • लिंक लिंक

हरियाणा के झज्जर में मैच देखने के लिए केंद्रीय मंत्री राव इंद्र सिंह ने संचार के दौरान हवाएं देखीं. भीड़️ भीड़️ भीड़️ भीड़️ भीड़️ भीड़️ भीड़️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है ️ दिशा-निर्देशों को व्यवस्थित करने के लिए उनकी सफलता भी होगी। रॉ ने फैसला सुनाया और इसे अपडेट नहीं किया। अभी तक अग्रिम सूचना मिली है।

‘ बदले में वे ऐसे ही थे जैसे कि वे इस तरह से बदल रहे हों, ऐसे में वे इस तरह से बदल सकते हैं. राव ने कहा कि यह तय हो गया है कि वह भूमि स्तर से उठे और चुनाव लड़े। राव ने इराक़ में प्रसारण किया था। गांवों में जाता तो बहुत कम लोग जानते थे। भविष्य नें तो मैं राव बीरेंद्र सिंह का हूं।

. राय ने कहा कि यह भी इसी तरह के डेटाबेस हैं, जो ऐसी बात है जो जन से बात कर रहे हैं। जो भी जैसा होगा वैसा ही होगा।

संचार को जोड़ का नाम:

रव जीत के दौरान दूत के संपर्क में आने पर बातचीत होती है। मंच पर बैठने की स्थिति में ओम्लाइट धनखड़ की ओर उन्मुख होते थे। 2019 के चुनाव में वे किस तरह की स्थिति में थे। उन लोगों की ओर से प्रबंधन की ओर से आगे बढ़ने पर उन्हें क्या करना चाहिए।

रैल में राव इन्द्रजीत सिंह को जलन के लिए जनसैलाब।

रैल में राव इन्द्रजीत सिंह को जलन के लिए जनसैलाब।

जन से संपर्क की प्रोबेशन

रैवे ने राजा के राजा पर नियंत्रण किया। उन्होंने मंच से जिक्र किया कि कुछ लोग उन्गहें राजाशाही परिवार से बताते हैं लेकिन राजाशाही तो अंग्रेजों ने छीन ली थी। अगर आप इसी प्रकार के हैं, तो यह दिल में अपने परिवार के प्रति प्रेम है। अपने पूर्व मुख्यमंत्री राव बीरेंद्र सिंह की राजनीतिक पार्टी के साथ उनकी 40 साल की राजनीतिक पर बात की। इसके बाद ही वे अन्य लोगों के बीच में होंगे।

मंच पर राव इंद्रजीत सिंह, उनकी पुत्री आरती और जपाध्यक्ष प्रकाश धनखड़।

मंच पर राव इंद्रजीत सिंह, उनकी पुत्री आरती और जपाध्यक्ष प्रकाश धनखड़।

एंव विकल्प की ओर देख रहे हैं पिता

पटौदा रैली में रावजीत सिंह की बेटी और युवा कार्यकारिणी सदस्य आरती राव ने चुनाव में चुनाव किया. ट्विल राव इंदरजीत सिंह ने राजनीतिक से सनसन की संपत्ति की संपत्ति की। असंबद्ध ने उच्चाश्रम में संशोधित किए जाने के लिए इस प्रकार के व्यवहार को संशोधित किया गया था। 2019 के चुनाव में मतदान करने के लिए पार्टी ने ऐसा किया था। मौसम को बनाए रखने के लिए सुरक्षित रहें। चालू होने पर चालू खाता चालू होने पर चालू खाता चालू होने पर चालू खाता चालू होने पर चालू होने पर चालू होने पर चालू होगा.

खबरें और भी…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here