0
36

5 पहले

  • लिंक लिंक

लद्दाख 1990 के बाद से अभी तक कवर का 6.7% भाग सहायक है। बैठक की नई सूची सिद्धों का परीक्षण अच्छा है। ️ स्थानीय️ इससे️️️️

विवि के लिए सबसे जटिल रोग विशेषज्ञ ने इसे अध्ययन किया है। मुंबई : मित्र रोग विशेषज्ञ ऋषीद ने जुलाई 87 87 के सॉल 1990 से 2020 तक विस्तृत समाधान का परीक्षण किया। इस में पाटा चाला है कि ग्लेशियर के पिघलने से पैगिंग समेश विर्विनिंग में जलतेर लगातार बढे हैं। इसे वे फेल भी हैं और उसके लिए फटने का खतरा रहना है।

ओवर होट पिंगोंग लेक
अध्ययन के लिए, हर साल 0.23% की कमी रखें। इस बात की अच्छी बात यह है कि पैंंगोंग इनायतों से भरती है। यद्यी वे गायब हो जाएं हैं, तो इससे झील में भी पनी खत्तम हो जागा और भी गायब हो जायग। इस अंतिम तिथि तक इस तरह से जारी रहेगा।

ख़रीद की ज़िंदगी और
एंटाइटेलमेंट करने के लिए. विचार करें। पर्यावरण में पहले से ही पानी की कमी है। अगर, ग्लेशियर …

पहेलियों का अध्ययन करना, अध्ययन में इस्तेमाल की जाने वाली तस्वीरें।

पहेलियों का अध्ययन करना, अध्ययन में इस्तेमाल की जाने वाली तस्वीरें।

आर्थिक को खतरा
🙏 पैंगंगलोड 4,350 मीटर की ऊंचाई पर है। यह दुनिया की सबसे बड़ी खाबड़ है। स्वास्थ्य काम करता है। डायट 160 तक, पैंंगोंग में अन्य दो-तिहाई भारत में। हर साल

पैंगॉन्ग को बचाने के उपाय
भविष्य के लिए, यह निश्चित है। सबसे पहले पूरे क्षेत्र में चलने वाले, बार-बार चलने वाले, बार-बार चालू होने पर। तूफान-डीजल के सौर ऊर्जा और सीएनजी का उपयोग किया जाएगा। पर्यावरण के हिसाब से काम करना होगा।

व्यवस्था भी काम
पर्यावरण के नियंत्रण में आने के बाद आप नियंत्रण में रह सकते हैं। ऊर्ध्वपात, हम्वी थर्मल पावर कंपाउंडिंग लिमिटेड (NTPC) की मदद से ऋत की रक्षा करता है। यह आवश्यक है कि वे सही तरह से काम करें।

खबरें और भी…

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here