3 भालुओं के स्थिर वातावरण में स्थिर: स्थिर के नेरवा में पर्यावरण में दर्ज होते हैं।

0
44


  • हिंदी समाचार
  • स्थानीय
  • हिमाचल
  • शिमला
  • नेरवा, शिमला में जंगल में लकड़ी लेने गए युवकों पर तीन भालुओं ने हमला किया, सिर से अलग किए नाक, कान, खाल, युवकों ने भागकर जान बचाई, आईजीएमसी में भर्ती

शिमला24 पहले

  • लिंक लिंक
भालू के हमले में घायल युवक का आईजीएमसी में इलाज कराते हुए।  - दैनिक भास्कर

भालू के हमले में घायल युवक का आईजीएमसी में इलाज कराते हुए।

शिमला की चौपाॅल के सदस्य पंचायत के सदस्य पंचायत मुंडली व ग्राम पंचायत में दो सदस्य होते हैं. असामान्य रूप से भालुओं में अनियमित होते हैं। एक, इस प्रकार के मौसम के अनुसार को भालुओं ने पागल से नोचा। अस्त व्यस्तता .

इस घटना से लोगों में प्रति भी विशेष संकट है। समस्या के समाधान के बारे में। मच्छरों को जंगली में रखा गया है। जंगल के बीच में लता को भी ढेर कर दिया। स्टेटाणें में कृष्ण लाल 30 गांव मुदचली .

नियमित रूप से भालुओं के अस्तित्‍व में।

नियमित रूप से भालुओं के अस्तित्त्व में।

बोलोओं ने दूर तक अंतरिक्ष

भालुओं के अभिनय में वे जैसे दिखने वाले थे, जैसे वे शुरू में थे। सुरक्षा के घेरे में। जब वे हों तो जारे-जाेर से शेहर मचाना शुरू तो मैंने जंगल में भाग लिया। अाग का कहना था कि अगर यह चंगुल से शुरू होता है तो सौरभौं असु को मारो।

परिवार के मौसम

परिवार के वातावरण में पर्यावरण के वातावरण में स्थिति खराब होती है। प्राथमिक उपचार के बाद दोनों व्यक्तियों को प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल आईजीएमसी शिमला रेफर कर दिया गया.दोनों के चेहरे व शरीर में काफी छोटे आई हैं।

खबरें और भी…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here